एनकाउंटर के डर से थाने में हाथ जोड़कर सरेंडर करने पहुंचा इनामी बदमाश, मांगने लगा रहम की भीख


आगरा,(उत्तर प्रदेश)। आगरा में एनकाउंटर के डर से डॉक्टर अपहरण कांड में फरार 25 हजार के इनामी बदमाश थाना एत्माद्दौला में हाथ जोड़कर सरेंडर करने पहुंच गया। रहम की भीख मांगने लगा। पुलिस ने उसे अरेस्ट कर उसकी निशानदेही पर घटना के दौरान इस्तेमाल की गई बाइक बरामद की है। शहर की ट्रांस यमुना कॉलोनी निवासी डॉ. उमाकांत गुप्ता का 13 जुलाई को पांच करोड़ की फिरौती के लिए अपहरण किया गया था। पुलिस ने 31 घंटे बाद धौलपुर के बीहड़ से डॉक्टर को मुक्त करा लिया था। दो आरोपी पवन और मंगला उर्फ संध्या पकड़े थे।
1 लाख के आरोपी ढ़ेर कर चुकी है पुलिस
मंगला ने हनीट्रैप में फंसाकर चिकित्सक को फंसाया था। इसके बाद उनका अपहरण किया गया था। पुलिस इस अपहरण कांड के मुख्य आरोपी एक लाख रुपये के इनामी बदमाश बदन सिंह और उसके साथी को मुठभेड़ में ढेर कर चुकी है।
कुल 4 आरोपियों का पुलिस ने किया एनकाउंटर
इसके अलावा मणिप्पुरम गोल्ड लोन कंपनी में डकैती के दो आरोपियों को भी पुलिस मुठभेड़ में पुलिस ने मार गिराया था। इस तरह आगरा में पुलिस ने पिछले दिनों में मुठभेड़ में चार बदमाशों को मार गिराया है।
एनकाउंटर में मारे जाने का बदमाशों के बीच इस कदर खौफ हो गया है कि रविवार को थाना रिफाइनरी जिला मथुरा के गांव खेडिया का रहने वाला तरुण नाम का युवक हाथ जोड़कर आगरा के थाना एत्माद्दौला में सरेंडर करने पहुंचा। पुलिस ने उसे अरेस्ट कर लिया।
पुलिस गिरफ्तारी के लिए दे रही थी तबिश
पुलिस की पूछताछ में तरुण ने कबूल किया कि उसने अपने साथियों के साथ मिलकर डॉ. उमाकांत गुप्ता का अपहरण किया था। उसकी गिरफ्तारी के लिए पुलिस ताबड़तोड़ दबिश दे रही थी। पुलिस के डर से उसने आत्मसमर्पण किया है। पुलिस ने उसकी निशानदेही पर घटना में प्रयोग की गई बाइक बरामद की है।
दो आरोपियों का पुलिस ने किया था एनकाउंटर
इससे पहले इसी मामले में भोला नाम का आरोपी भी हाथ जोड़कर थाने में सरेंडर करने पहुंच गया था। भोला तो बच गया परन्तु इसके दूसरे ही दिन इस मामले के दो आरोपियों को पुलिस ने मुठभेड़ में ढेर कर दिया था।

Popular posts from this blog

उत्तर पूर्वी जिला पुलिस ने ऑपरेशन अंकुश के तहत छेनू गैंग के चार बदमाशों को किया गिरफ्तार

जीटीबी एंक्लेव थाने में तैनात दिल्ली पुलिस की महिला एसआई ने लगा ली फांसी, पुलिस ने बचाई जान

रोटरी क्लब इंदिरपुरम परिवार के पूर्व प्रधान सुशील चांडक को ज़ोन २० का बनाया गया असिस्टंट गवर्नर