मुंबई में पिता की मौत और गरीबी से परेशान बेटियों ने किया सुसाइड का प्रयास


मुंबई ब्यूरो। मुंबई से सटे विरार इलाके में एक दिल को झकझोर देने वाली घटना सामने आयी है। जहां दो बहनें पिता की मौत के बाद चार दिन तक उनकी लाश के साथ रहीं। दरअसल लड़कियों के पिता की मौत 1 अगस्त को हो गई थी। किएकिन इस बात की जानकारी किसी और को ना लगे इसलिए लड़कियों ने लाश के पास कपूर और सुगन्धित धूप और अगरबत्ती जलाकर रखी थी।
दो बहनों में से बड़ी बहन ने समंदर में कूदकर आत्महत्या कर ली है जबकि छोटी बहन जब सुसाइड करने के लिए गयी तब उसे वहां मौजूद लोगों ने सुरक्षित बचा लिया। जब पुलिस ने इस मामले में युवती से पूछताछ की तब इस पूरे मामले का पता चला। युवती ने पुलिस को बताया की उसके पिता की पेंशन से घर खर्च चलता था।
घर में है मानसिक विक्षिप्त मां
लड़की ने पुलिस को यह भी बताया कि घर में उसकी बूढ़ी मां मानसिक रूप से विक्षिप्त है। घर की आर्थिक हालत काफी ख़राब है। दोनों बहनों की शादी भी नहीं हुई थी। यह घटना विरार वेस्ट की गोकुल टाउनशिप परिसर की अग्रवाल ब्रुकलीन पार्क इमारत में रहने वाले हरिदास साहकार के परिवार में हुई।

Popular posts from this blog

उत्तर पूर्वी जिला पुलिस ने ऑपरेशन अंकुश के तहत छेनू गैंग के चार बदमाशों को किया गिरफ्तार

जीटीबी एंक्लेव थाने में तैनात दिल्ली पुलिस की महिला एसआई ने लगा ली फांसी, पुलिस ने बचाई जान

रोटरी क्लब इंदिरपुरम परिवार के पूर्व प्रधान सुशील चांडक को ज़ोन २० का बनाया गया असिस्टंट गवर्नर