अंतरराष्ट्रीय ड्रग धंधे का खुलासा, दो नाइजीरियाई नागरिकों से चार करोड़ की ड्रग बरामद


नई दिल्ली। पश्चिम दिल्ली जिला के नारकोटिक्स दस्ते ने अंतरराष्ट्रीय ड्रग धंधे का खुलासा किया है। पुलिस ने दो नाइजीरियाई नागरिकों को गिरफ्तार कर उनके कब्जे से पार्टी ड्रग म्यांऊ म्यांऊ के नाम से प्रचलित आठ सौ ग्राम मेफेड्रोन ड्रग्स बरामद किया है। पचास ग्राम और उससे अधिक को व्यावसायिक मात्रा माना जाता है। बरामद ड्रग की अंतरराष्ट्रीय बाजार में कीमत चार करोड़ रुपये आंकी गई है।
जिला के अतिरिक्त पुलिस उपायुक्त प्रशांत गौतम ने बताया कि नारकोटिक्स दस्ते को सूचना मिली कि ड्रग के धंधे में शामिल एक अफ्रीकी नागरिक रविवार शाम ड्रग की खेप लेकर केशोपुर के गंदा नाला के पास आने वाला है। इस सूचना पर सहायक पुलिस उपायुक्त सुदेश रंगा के देखरेख में टीम वहां पर घेराबंदी कर दी।
करीब सवा चार में वहां पहुंचे एक अफ्रीकी नागरिक को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। तलाशी के दौरान उसके पास से 650 ग्राम मेफेड्रोन ड्रग मिला। आरोपी की पहचान नाइजीरिया निवासी एज मार्टिन(31) के रूप में हुई।
पूछताछ में एज मार्टिन ने बताया कि वह चंदर विहार निवासी नाइजीरिया नागरिक जॉर्ज पास्कल(60) के निर्देश पर ड्रग का सप्लाई करता है। उसके निशानदेही पर पुलिस ने जॉर्ज पास्कल को गिरफ्तार कर लिया।
उसके कब्जे से पुलिस ने डेढ़ सौ ग्राम मेफेड्रोन ड्रग बरामद कर लिया। जांच के बाद पुलिस ने बताया कि जॉर्ज पास्कल चंदर विहार में किराने की दुकान और अफ्रीकन समुदाय का रेस्टोरेंट चलाता था और इसी की आड़ में ड्रग का धंधा करता था।