गाजियाबाद में एमएमजी अस्पताल के इमरजेंसी वॉर्ड में एक बेड पर मिले 2 मरीज, स्वास्थ्य मंत्री अतुल गर्ग ने डॉक्टर को लगाई फटकार


गाजियाबाद ब्यूरो। उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद में स्वास्थ्य राज्यमंत्री अतुल गर्ग ने मंगलवार को जिला एमएमजी अस्पताल का औचक निरीक्षण किया। इस दौरान अस्पताल की इमरजेंसी में एक बेड पर 2 मरीज मिले। ऐसा देख मंत्री ने अस्पताल प्रबंधन को फटकार लगाई और इमरजेंसी में बेड बढ़ाने के निर्देश दिए।
दोपहर में लगभग 12 बजे जिला एमएमजी अस्पताल स्वास्थ्य राज्यमंत्री पहुंचे। उन्होंने वॉर्ड में भर्ती मरीजों का भी हालचाल जाना। उन्होंने मरीजों से डॉक्टर के आने, चादरें बदलने, खाना और दवाएं समय से मिलने, किसी के द्वारा पैसे मांगे जाने आदि के बारे में पूछा। मरीजों ने इस संबंध में कोई शिकायत नहीं की।
वॉर्ड के बाद जब वह इमरजेंसी में गए तो देखा कि एक बेड पर 2 मरीज थे। वहां तैनात डॉक्टर ने बताया कि इमरजेंसी में अचानक ज्यादा मरीज आने के कारण ऐसा किया गया, मरीजों को अलग बेड पर पहुंचाया जा रहा है। इस पर स्वास्थ्य राज्यमंत्री ने इमरजेंसी वॉर्ड में बेड की संख्या बढ़ाने के निर्देश दिए।
उन्होंने कहा कि किसी भी स्थिति में एक बेड पर 2 मरीजों को नहीं रखना चाहिए। इसके अलावा एक महिला ने उनसे शिकायत की कि उसका बेटा अस्पताल में भर्ती था, लेकिन उसके पूरी तरह से स्वस्थ होने से पहले ही डॉक्टर ने डिस्चार्ज कर दिया। इस पर स्वास्थ्य राज्यमंत्री ने डॉक्टर को बच्चे की दोबारा से जांच करने और जरूरी होने पर भर्ती करने के निर्देश दिए। साथ ही उन्होंने अन्य मरीजों को भी पूरी तरह से स्वस्थ होने के बाद ही अस्पताल से छुट्टी देने के लिए कहा। निरीक्षण के दौरान अस्पताल के सीएमएस डॉ. अनुराग भार्गव के अलावा एसपी वर्मा, राजेंद्र मित्तल, नवनीत गुप्ता, पार्षद राजेश शर्मा, नीरज गोयल आदि मौजूद रहे।