30 नवंबर तक वैध रहेंगे ड्राइविंग लाइसेंस और परमिट, कोरोना की वजह से सरकार ने दी सुविधा


नई दिल्ली। अगर आपका लाइसेंस 30 सितंबर तक एक्सपायर हो रहा है और परमानेंट लाइसेंस के लिए होने वाले टेस्ट की डेट थोड़ी देरी से मिल रही है तो उन्हें दिल्ली सरकार की ओर से एक बड़ी राहत दी जा रही है। सरकार ने फैसला किया है कि मौजूदा ड्राइविंग लाइसेंस, फिटनेस, परमिट समेत दूसरी सभी परिवहन डॉक्युमेंट की वैधता 30 नवंबर तक के लिए बढ़ा दी जाएगी। परिवहन मंत्री कैलाश गहलोत का कहना है कि आम लोगों की परेशानियों को देखते हुए यह फैसला किया गया है। उनका कहना है कि कोरोना काल में सरकार की कोशिश है कि लोगों को ज्यादा से ज्यादा सुविधाएं मिलें और भीड़भाड़ को कम किया जा सके। लाइसेंस समेत दूसरी जरूरी डॉक्युमेंट्स अगले दो महीने तक भी वैध रहेंगे और विभाग इस बारे में जरूरी आदेश जारी करेगा।
दिल्ली सरकार के एक अधिकारी का कहना है कि अभी केंद्र की ओर से डॉक्युमेंट की वैधता अवधि बढ़ाने को लेकर कोई गाइडलाइंस नहीं आई हैं लेकिन दिल्ली सरकार ने अपने स्तर पर यह फैसला लिया है कि डॉक्युमेंट को 30 नवंबर तक के लिए वैध माना जाएगा। जिन लोगों का ड्राइविंग लाइसेंस 30 सितंबर तक खत्म हो रहा था और उन्हें अभी कुछ दिन बाद की वेटिंग मिल रही थी, ऐसे सभी लोगों के लिए यह बड़ी राहत है। उनका लाइसेंस अब 30 नवंबर तक वैध होगा और इस दौरान वे अपना लाइसेंस बनवा सकते हैं, रिन्यु करवा सकते है। साथ ही गाड़ी की फिटनेस करवाने के लिए भी अब पर्याप्त समय मिलेगा। पिछले साल जब कोरोना शुरू हुआ था, उसके बाद से केंद्र सरकार की गाइडलाइंस के मुताबिक डॉक्युमेंट्स की वैधता बढ़ाई जा रही है। हालांकि इस बार अभी केंद्र की गाइडलाइंस नहीं आई हैं और दिल्ली सरकार ने यह अहम फैसला लिया है।
अधिकारियों का कहना है कि जिन लोगों के ड्राइविंग लाइसेंस, परमिट और रजिस्ट्रेशन की वैधता एक फरवरी 2020 के बाद खत्म हो गई है, वे इन दस्तावेजों के रिन्युअल के लिए 30 नवंबर तक आ सकते हैं। पिछले साल फरवरी के बाद से लगातार यह समय सीमा बढ़ती रही है। जो लोग अपने ड्राइविंग लाइसेंस या अन्य जरूरी दस्तावेज के एक्सपायर होने की वजह से उसे रिन्यू कराने के लिए परेशान हैं, तो अब उनको राहत मिलेगी। इस महीने खत्म हो रहे लर्निंग और परमानेंट लाइसेंस की वैधता अगले दो महीने और जारी रहेगी।

Popular posts from this blog

उत्तर पूर्वी जिला पुलिस ने ऑपरेशन अंकुश के तहत छेनू गैंग के चार बदमाशों को किया गिरफ्तार

जीटीबी एंक्लेव थाने में तैनात दिल्ली पुलिस की महिला एसआई ने लगा ली फांसी, पुलिस ने बचाई जान

रोटरी क्लब इंदिरपुरम परिवार के पूर्व प्रधान सुशील चांडक को ज़ोन २० का बनाया गया असिस्टंट गवर्नर