अमेरिका घूमने की चाहत में 64 लाख लूटे, मास्टरमाइंड महिला समेत 4 गिरफ्तार


दिल्ली ब्यूरो। लाहौरी गेट इलाके में एक ऑफिस में स्टाफ को बंधक बनाकर 64 लाख 15 हजार की लूट हुई थी। लूटकांड की मास्टरमाइंड एक महिला निकली। महिला अपने पति के साथ अमेरिका का टूर करना चाहती थी। उसने अपने पति और ऑफिस के ही एक कर्मचारी फ्रेंड की मदद से लूट की साजिश को अंजाम दिया। पुलिस ने दंपती समेत चार आरोपियों को गिरफ्तार किया है। आरोपियों के पास से लूटी गई रकम बरामद की है। आरोपियों ने वारदात को अंजाम देने से पहले दो दिन रेकी की थी।
डीसीपी अंटो अल्फोंस के मुताबिक, एसएचओ जरनैल सिंह की टीम ने जांच के दौरान टेक्निकल सर्विलांस और 200 से ज्यादा सीसीटीवी कैमरों की फुटेज खंगाली, तब आरोपी शिकंजे में आए। आरोपियों की पहचान शास्त्री नगर निवासी 35 वर्षीय परवेज उर्फ सलमान, चांदनी चौक निवासी 48 वर्षीय परेश पटेल, शास्त्री नगर निवासी 39 वर्षीय सीमा व 42 वर्षीय अब्दुल के तौर पर हुई है। आरोपियों में परवेज के ऊपर सात अपराधिक मुकदमे हैं।
परेश पटेल ऑफिस का ही कर्मचारी है, जिसकी मिलीभगत से लूट को अंजाम दिया गया। दरअसल, जासू भाई पटेल की कूचा घासी राम चांदनी चौक में कोरियर फर्म है, जिसका ऑफिस लाहौरी गेट इलाके में है। 11 सितंबर की दोपहर वह अपने स्टाफ के दो कर्मचारी परेश पटेल और हीरेन के साथ शॉप पर बैठे थे। तभी तीन हथियारबंद बदमाश घुसे। हाथ में पिस्टल और चाकू थे। दो बदमाशों ने इन्हें धमकाया और तीसरे ने अलमारी में रखे दस लाख रुपये और अन्य बैग में रखे रुपये लूट लिए और बदमाश फरार हो गए। लूटी गई रकम 64 लाख 15 हजार रुपये थी। लाहौरी गेट थाने में लूट और आर्म्स एक्ट का मुकदमा दर्ज कर लिया। पीड़ित कर्मचारियों के मोबाइल की सीडीआर निकाल उसका विश्लेषण किया, जिसके बाद पुलिस की जांच परेश पटेल के ऊपर आकर ठहर गई। 13 सितंबर को पुलिस उस तक पहुंच गई जिसने पूछताछ में इस वारदात में अपना हाथ होने की बात स्वीकार ली। इसके बाद बाकी आरोपी पकड़े गए।