75 प्लॉट, महल जैसा घर, दो दिन की छापेमारी में 19 करोड़ के पार की मालकिन निकली महिला सरपंच


रीवा,(मध्य प्रदेश)। मंगलवार की सुबह 4 बजे से शुरू हुई छापेमारी बुधवार शाम तक चली है। इसके बाद महिला सरपंच सुधा जिवेंद्र सिंह की अकूत संपत्ति का खुलासा हुआ है। सुधा जिवेंद्र सिंह ने सरपंच रहते हुए 19 करोड़ रुपये से अधिक की संपत्ति अर्जित की है। बुधवार की कार्रवाई के दौरान 42 भूखंडों के बारे में और जानकारी मिली थी। सरपंच सुधा सिंह के पास कुल 75 प्लॉट हैं। वहीं, अब रीवा प्रशासन ने भी जांच शुरू कर दी है।
शुरुआती छापेमारी में यह जानकारी सामने आई थी कि महिला के पास 10 करोड़ की संपत्ति है। रीवा लोकायुक्त की छापेमारी खत्म होने के बाद यह पता चला है कि उसके पास 19 करोड़ रुपये से अधिक की संपत्ति है। लोकायुक्त की टीम यह जांच कर रही है कि उसे यह संपत्ति कैसे अर्जित की है। रीवा कलेक्टर इलैया राजा टी ने कहा कि मामले की जांच लोकायुक्त पुलिस कर रही है। उन्होंने कहा कि कार्रवाई के बाद सरपंच से वित्तीय प्रभार छीन लिया गया है।
सरपंच के पास हैं 75 प्लॉट
मंगलवार को छापेमारी के दौरान लोकायुक्त 32 रजिस्ट्रियां मिली थीं। बुधवार को 43 और प्लॉटों के बारे में जानकारी मिली है। इसके साथ ही सरपंच के पास कुल 75 प्लॉट मिले हैं। इसकी कुल कीमत आठ करोड़ रुपये हैं। इन प्लॉटों को खरीदने के लिए सरपंच और उसके पति के पास पैसे कहां से आए हैं, इसकी भी जांच की जाएगी। संपत्ति के कुछ और दस्तावेज मिले हैं, जो इनके नाम पर नहीं है।
महिला सरपंच का पति करता है ठेकेदारी
बैजनाथ गांव की महिला सरपंच का पति ठेकेदारी करता है। जितेंद्र सिंह ने जेएस कंस्ट्रक्शन के नाम से कंपनी बनाई है। वह सड़क और पुल निर्माण का ठेका लेता है। इसके साथ ही माइनिंग का काम भी करता है। जिला पंचायत के अधिकारियों ने बताया कि बीते छह सालों में बैजनाथ पंचायत को विकास कार्यों के लिए तीन करोड़ 85 लाख रुपये आवंटित किए गए हैं।
महिला सरपंच सुधा सिंह के पास दो महल जैसा घर है। बैजनाथ गांव में आलीशान बंगला है। इसमें स्वीमिंग पूल भी है। इसकी सजावट पर लाखों रुपये खर्च किए गए हैं। लोकायुक्त के अनुसार इसकी अनुमानित कीमत दो करोड़ रुपये है। वहीं, रीवा के शारदापुरम कॉलोनी में भी एक मकान मिला है, जिसकी अनुमानित कीमत डेढ़ करोड़ रुपये हैं। घर से साढ़े तीन लाख रुपये नगद भी मिले हैं।
20 लाख रुपये के गहने मिले
वहीं, महिला सरपंच के घर से 20 लाख रुपये के सोने-चांदी के जेवरात भी मिले हैं। साथ ही जीवन बीमा पॉलिसी और बैंक में जमा 12 लाख रुपये के कागजात मिले हैं। अभी तक की कार्रवाई में कुल 19 करोड़ 55 लाख रुपये की संपत्ति मिली है। लोकायुक्त ने केस की जांच शुरू कर दी है। जांच के दौरान आने वाले दिनों में संपत्ति बढ़ भी सकती है।