ठाणे में फेरीवालों का आतंक, कोयते से काटी महिला अधिकारी की उंगलियां


  • फेरीवाले ने काट डाली महिला अधिकारी के हाथ की दो उंगलियां
  • अतिक्रमण के विरोध में कार्रवाई कर रही थी महिला अधिकारी
  • ठाणे महानगर पालिका में सहायक आयुक्त हैं महिला अधिकारी
  • महिला अधिकारी के सुरक्षा रक्षक की भी एक ऊँगली टूटी
  • आरोपी फेरीवाले को पुलिस ने किया गिरफ्तार
ठाणे,(महाराष्ट्र)। ठाणे शहर में अतिक्रमण विरोधी कार्रवाई करने गईं महानगर पालिका की एक महिला अधिकारी पर एक फेरीवाले ने जानलेवा हमला कर दिया। इस हमले में महिला अधिकारी के हाथ की दो उंगलियां कट गई हैं। बीच-बचाव करने गए महिला अधिकारी के सुरक्षा रक्षक की भी एक उंगली कट गयी है। इस घटना के बाद हमलावर फेरीवाले को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। यह मामला सोमवार का बताया जा रहा है।
सहायक आयुक्त पर हमला
ठाणे महानगर पालिका के माजीवाड़ा मानपाड़ा वार्ड की सहायक आयुक्त कल्पिता पिंपले सड़क पर अवैध रूप से ठेले पर सामान बेचने वाले अवैध फेरीवालों के खिलाफ कार्रवाई करने गई थीं। इस कार्रवाई के दरम्यान फेरीवालों ने उन पर जानलेवा हमला कर दिया। हमले में कल्पिता पिंपले की दो उंगलियां इन हमलावरों ने काट दी। एक हमलावर 45 वर्षीय अमरजीत यादव को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है।
निजी अस्पताल में इलाज शुरू
फ़िलहाल महिला अधिकारी का ठाणे के एक निजी अस्पताल में इलाज चल रहा हैं। कल्पिता पिंपले आज शाम घोड़बंदर रोड स्थित कसारवडवाली क्षेत्र में फेरीवालों के खिलाफ कार्रवाई करने गई थी। कार्रवाई का विरोध करते हुए यादव ने उन पर कोयते से हमला कर दिया। हमले में ना सिर्फ पिंपले की दो उंगलियां कट गई बल्कि उनके एक सुरक्षा गार्ड की अंगुली भी कट गई है। दोनों का वेदांत अस्पताल घोड़बंदर रोड में इलाज चल रहा है। घटना से इलाके में हड़कंप मच गया है।
फेरीवाले को सबक सिखाया जाएगा
ठाणे महानगरपालिका की एक अधिकारी पर एक फेरीवाले द्वारा हमला किये जाने के मामले में राज ठाकरे ने कहा कि जेल से बाहर आने के बाद उसे सबक जरूर सिखाया जाएगा। फेरी वालों की हिम्मत इतनी कैसे बढ़ती जा रही है कि किसी अधिकारी या कर्मचारी के हाथ की उंगलियां काट रहे हैं।