सीमापुरी इलाके में आरटीवी सवार एक युवक को बदमाशों ने मारे चाकू, लड़की ने बचाई जान


दिल्ली ब्यूरो। सीमापुरी इलाके में आरटीवी सवार एक युवक को चार बदमाशों ने जमकर पीटा। चाकू से पेट और हाथ पर वार किए। एक युवती ने हिम्मत दिखाई और बदमाशों को धक्का देकर नीचे गिराया। आरटीवी ड्राइवर की मदद से जख्मी युवक को अस्पताल में भर्ती करवाया। इस वजह से जख्मी अनिकेत प्रताप (23) की जान बच गई। उन्हें रविवार शाम अस्पताल से छुट्टी मिल गई। पुलिस ने हत्या के प्रयास का केस दर्ज कर लिया है। फिलहाल हमलावर पुलिस की पकड़ से बाहर हैं।
अनिकेत परिवार समेत शाहदरा के राम नगर एक्सटेंशन में रहते हैं। वह गाजियाबाद के सूर्य नगर स्थित एक कंपनी में अकाउंटेंट हैं। उन्होंने पुलिस को बताया कि 8 सितंबर दोपहर सीमापुरी गोल चक्कर से आरटीवी में सवार होकर वह सूर्य नगर जा रहे थे। थोड़ा आगे चलने पर सीमापुरी श्मशान घाट के सामने चार लड़कों ने आरटीवी को रुकवाया और सवार हो गए। एक लड़का उनकी बगल की खाली सीट पर बैठ गया, जबकि दूसरे लड़के ने अनिकेत को जबरन उठा दिया। चारों लड़के नशे की हालत में थे। अनिकेत ने उनसे बोलना ठीक नहीं समझा और सीट से खड़े हो गए।
इसके बाद भी तीसरा लड़का उनसे कहने लगा कि कैसे खड़ा है और लात-घूंसे मारने लगा। बैठे हुए लड़के ने चाकू निकालकर अनिकेत के पेट पर हमला कर दिया। उन्हें जबरन नीचे उतारने लगे और उनके बाएं हाथ पर भी चाकू मार दिया। इससे उनके पेट और हाथ से खून बहने लगा। आरटीवी में 15-20 सवारियां थीं, लेकिन आगे सिर्फ एक लड़की आईं। लड़की ने हिम्मत दिखाकर गेट पर खड़े बदमाशों को नीचे गिरा दिया। वह जख्मी हालत में अनिकेत को आरटीवी ड्राइवर की मदद से विवेक विहार के एक निजी अस्पताल में ले गईं। सर्जरी होने के बाद अगले दिन अनिकेत ने पुलिस को कॉल की।