गाजियाबाद में पार्किंग ठेकों के नाम पर शहर में वाहन चालकों से अवैध वसूली का खेल


गाजियाबाद ब्यूरो। पार्किंग ठेकों के नाम पर शहर में वाहन चालकों से अवैध वसूली का खेल अब नए तरीके से किया जाने लगा है। सड़क किनारे छोड़े गए पार्किंग ठेकों का दायरा स्टैंड संचालकों ने बढ़ाकर चार से पांच गुना कर लिया है। पार्किंग स्टैंड के आसपास खड़े होने वाले वाहनों से भी अवैध वसूली की जा रही है। पैसा देने से इनकार करने पर वाहन चालकों से अभद्रता की जा रही है। इसकी शिकायत नगर निगम के अधिकारियों के पास भी पहुंची है।
नेहरू नगर में यशोदा अस्पताल के सामने, गांधी नगर में तहसील कंपाउंड में और बुलंदशहर रोड औद्योगिक क्षेत्र में आरटीओ कार्यालय के बाहर, आरडीसी में मॉल के सामने सड़क किनारे पार्किंग ठेके छोड़े गए हैं। यहां न तो पार्किंग स्टैंड का चिन्हांकन किया गया है और न ही पार्किंग स्टैंड की सीमा का बोर्ड लगाया गया है। घरों के सामने कार खड़ी करने पर भी यहां पार्किंग शुल्क वसूला जा रहा है। नगर निगम से यह स्टैंड संचालक छोटी सी जगह का ठेका बहुत कम दरों में ले लेते हैं और पांच गुना ज्यादा तक आमदनी करते हैं। यह पार्किंग स्टैंड संचालक न केवल अवैध वसूली कर रहे हैं, बल्कि निगम को राजस्व कम मिल रहा है। निगम अधिकारियों को भी इसकी जानकारी है, लेकिन कार्रवाई नहीं की जाती।