दिल्ली में बदमाशों के हौसले बुलंद, फ्लाईओवर पर चलती कार को हाईजैक कर मांगी फिरौती


पूर्वी दिल्ली। मयूर विहार फ्लाईओवर पर बाइक सवार बदमाशों ने एक कार को हाईजैक कर लिया। कार सवार को अंदर बंधक बना लिया। मारपीट करते हुए पहले कैश छीना। फिर चलती कार में डिजिटल वॉलेट के जरिए फिरौती की रकम मांगने लगे। नाकाम होने पर कैश और घड़ी लूट ले गए। गुस्से में कार का शीशा भी तोड़ दिया। वारदात से डरे सहमे पीड़ित ने बदमाशों के चंगुल से छूटकर पुलिस को सूचना दी। मयूर विहा पुलिस जांच कर रही है।
पुलिस के मुताबिक, पंकज यादव परिवार समेत चावड़ी बाजार इलाके में रहते हैं। पंकज यादव अपने हुंडई वेन्यू कार से नोएडा से अपने घर जा रहे थे। रात को 10 बजे करीब जब वह कार से मयूर विहार फ्लाईओवर तक पहुंचे। इसी दौरान पीछे से एक बाइक ने ओवरटेक किया और अचानक से कार के आगे कट मारते हुए रोक ली। पंकज ने भी कार को अचानक ब्रेक देकर रोक लिया। बाइक सवार युवक के इरादे को पंकज समझ नहीं आए। कार के शीशे को नीचे जैसे ही किया। तभी उसने कार का दरवाजा खोलकर पंकज को जबरन बाहर खींच लिया और मारपीट करने लगा।
पंकज के कारण पूछने पर उसने आरोप लगाया कि वह पीछे कार से हिट करके आया है। पंकज आरोप सुनकर हैरान थे, क्यों कि उन्हें अच्छे से पता था कि किसी को भी हिट नहीं किया। तभी अहसास हुआ कि यह बदमाश हो सकते हैं। इतने में चारों तरफ 8 से 10 लड़के घेर कर खड़े हो गए और धक्का मुक्की करते हुए हथापाई करने लगे।
जैसे ही पंकज ने पुलिस बुलाने के लिए कॉल करनी चाही। बदमाशों ने मोबाइल और पर्स छीन लिया। इसके बाद बदमाशों ने कार को हाईजैक कर लिया। कार के अंदर जबरन पंकज को बिठा लिया। बदमाश भी उसमें सवार हो गए। बदमाश आपस में कहने लगे कि इसे सुनसान जगह पर ले चलो। रास्ते में बदमाशों ने बैग, पॉकेट चैक की। जिसमें 37 हजार कैश निकाल लिया। बदमाश फिर से तमाचे जड़ते हुए पेटीएम के जरिए और पैसों की डिमांड करने लगे। पंकज ने चालाकी दिखाते हुए गलत पिन नंबर दिया। जिसकी वजह से बदमाश बौखला गए और उन्होंने गुस्से में कार का शीशा तोड़ दिया।
बदमाश ऑफ मोबाइल फोन भी कार के अंदर फेंककर फरार हो गए। तभी पंकज वहां से कार लेकर भागे। रास्ते में मोबाइल को ऑन किया। पुलिस को सूचना दी। वारदात से पंकज बुरी तरह घबरा गए। मयूर विहार पुलिस ने मौका मुआयना करने के बाद बयान पर केस दर्ज कर लिया है। सीसीटवी कैमरों की फुटेज से पुलिस आरोपियों का सुराग लगा रही है।