महिलाओ पर चाकू से जानलेवा हमला करने वाला अभियुक्त नाजायज छुरी सहित गिरफ्तार


प्रेम प्रकाश त्रिपाठी,(गाजियाबाद)। पुलिस ने लिंक रोड थाना क्षेत्र स्थित महाराजपुर में 26 घंटे के भीतर दो महिलाओं पर जानलेवा हमला करने वाले सिरफिरे युवक को मंगलवार को दबोच लिया। पत्नी के छोड़कर जाने से कुंठित होकर उसने दोनों महिलाओं पर जानलेवा हमला किया था। पुलिस ने उसे जेल भेज दिया।
पुलिस अधीक्षक नगर द्वितीय गाजियाबाद ज्ञानेंद्र सिंह ने बताया कि आरोपित की पहचान सोनू कुमार उर्फ दीपक निवासी ग्राम नया बीधा थाना अठमल गोला जिला पटना बिहार के रूप में हुई है। वह मजदूरी करता था। पूछताछ में पता चला है कि वह दो अगस्त की सुबह विक्रमशिला एक्सप्रेस से आनंद विहार दिल्ली आया।
काम ढूंढ़ने के लिए साहिबाबाद औद्योगिक क्षेत्र पहुंचा। उसे काम नहीं मिला। दोपहर करीब साढ़े तीन बजे वह महाराजपुर गांव पहुंचा। असलम के घर में घुस गया। अंदर सो रही उनकी पत्नी सेहनाज के सिर में चाकू घोंपकर फरार हो गया। 26 घंटे के भीतर तीन अगस्त की शाम करीब पांच बजे पड़ोस में रहने वाली हसमुना खातून के चेहरे पर चाकू से वार कर दिया। दोनों घटनाओं को घर में रखे चाकू का इस्तेमाल किया। घटना को अंजाम देने के बाद रेलवे लाइन की ओर से आनंद विहार भाग गया।
ज्ञानेंद्र सिंह ने बताया कि मंगलवार को उसे महाराजपुर के पास रेलवे लाइन के किनारे से पकड़ा गया। उसके पास से एक चाकू और घटना को अंजाम देते समय पहने गए नेकर और टी-शर्ट को बरामद कर लिया गया। पूछताछ में उसने बताया कि शादी के एक माह बाद उसकी पत्नी उसे छोड़कर चली गई। इससे वह कुंठित रहने लगा। दोनों महिलाओं को सोता देखकर उसके मन में उन्हें मारने का विचार आया। आवेश में आकर उन पर चाकू से हमला कर दिया। ज्ञानेंद्र सिंह ने बताया कि आरोपित के बारे में बिहार पुलिस को सूचना दी जाएगी। यह पता किया जाएगा कि इसके पहले भी इसने ऐसे वारदात किए थे या नहीं।
ज्ञानेंद्र सिंह ने बताया कि सीसीटीवी की मदद से आरोपित तक पहुंचा गया है। उसने पूछताछ में बताया है कि वारदात करने के बाद वह आनंद विहार बस अड्डा भाग जाता था। दिन में इधर-उधर घूमता रहता था। रात में बस अड्डे पर ही सो जाता था। इसके पहले वह दिल्ली में रहकर ही मजदूरी करता था। इस कारण उसे रास्तों की जानकारी थी।