संदिग्ध हालत में फांसी से लटकता मिला महंत नरेंद्र गिरि का शव, शिष्य आनंद गिरी पर एफआईआर दर्ज


प्रयागराज। अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरि उत्तर प्रदेश के प्रयागराज में अपने आवास पर मृत पाए गए है। उनका शव सोमवार देर शाम बरामद किया गया और मौके पर 12 पन्नों का एक सुसाइड नोट भी मिला है। पुलिस ने मामले में तीन को गिरफ्तार किया है और आनंद गिरी के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गई है, जिसका नाम सुसाइड नोट में था। हालांकि, आनंद गिरी सभी दावों को खारिज कर रहे है।
यूपी के एडीजी प्रशांत कुमार के मुताबिक, पुलिस को सूचना मिली थी की महंत जी ने आत्महत्या की है। सूचना मिलने पर आईजी और उनकी टीम मौके पर पहुंची और उनके शरीर को पंखे से उतारा।  मौके से सुसाइड नोट मिला था जिसपर उन्होंने आनंद गिरि तथा दो अन्य लोगों के विरुद्ध आरोप लगाए हैं।तुरंत कार्रवाई करते हुए पुलिस ने आनंद गिरि को उत्तराखंड पुलिस की सहायता से हरिद्वार से हिरासत में लिया। एक टीम वहां भेजी जा रही है जो पूर्ण सुरक्षा के बीच आनंद गिरी को लाएगी और आगे की पूछताछ इसमें की जाएगी।