दिल्ली में जम्मू कश्मीर के लीडर त्रिलोचन सिंह वजीर की हत्या, सड़ी-गली अवस्था में फ्लैट से मिला शव


दिल्ली ब्यूरो। दिल्ली के मोतीनगर इलाके के बसई दारापुर के एक फ्लैट में सड़ी गली अवस्था में नेशनल कांफ्रेंस के नेता त्रिलोचन सिंह वजीर का शव मिलने से सनसनी मच गई है। एक्स एमएलसी और जेएंडके के डिस्ट्रीक्ट गुरुद्वारा प्रबंध कमेटी के चेयरमैन रह चुके है त्रिलोचन सिंह वजीर की दिल्ली में हत्या हो गई। दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी के चेयरमैन मनजिंदर सिंह सिरसा ने उनके निधन पर गहरा शोक व्यक्त किया है। सिरसा ने ट्वीट करके दावा किया था कि उनकी हत्या कर दी गई है। फिलहाल पुलिस ने धारा 302 के तहत मामला दर्ज कर लिया है। दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी के चेयरमैन मनजिंदर सिंह सिरसा ने ट्वीट कर लिखा है कि दिल्ली में त्रिलोचन सिंह वजीर जी मेरे सबसे प्रिय मित्र की हत्या से स्तब्ध और गहरा दुख हुआ। उन्होंने जिला गुरुद्वारा प्रबंधक बोर्ड, जम्मू-कश्मीर के अध्यक्ष के रूप में बहुमूल्य सेवाएं दी हैं। उनके परिवार के प्रति मेरी गहरी संवेदना है। वाहेगुरु उनकी आत्मा को शांति प्रदान करें
अभी तक पुलिस को कुछ स्पष्ट नहीं
जम्मू कश्मीर में डिस्ट्रिक्ट गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी के चेयरमैन रह चुके बुजुर्ग नेता सरदार त्रिलोचन सिंह वजीर की दिल्ली में हत्या कर दी गई है। उनकी डेडबॉडी पश्चिमी दिल्ली के मोती नगर इलाके में आज सुबह मिली। दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी के चेयरमैन मनजिंदर सिंह सिरसा ने ट्वीट करके दावा किया कि उनकी हत्या की गई है। हालांकि दिल्ली पुलिस की तरफ से अभी मौत के कारणों पर कुछ स्पष्ट नहीं किया गया है।
डीसीपी वेस्ट उर्वीजा गोयल ने बताया कि बुजुर्ग की डेडबॉडी के बारे में सुबह पता चला था। उनकी पहचान सरदार त्रिलोचन सिंह वजीर के रूप में हुई है। वह जम्मू कश्मीर की एक पार्टी से भी जुड़े हुए हैं। जम्मू कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला ने भी ट्वीट करके कहा कि वह साथी सरदार टीएस वजीर की अचानक मौत से स्तब्ध हैं। वह विधान परिषद के सदस्य रह चुके हैं। कुछ दिन पहले ही दोनों जम्मू में साथ थे और तब यह नहीं पता था कि यह उनकी आखिरी मुलाकात साबित होने वाली है। उनको आत्मिक शांति मिले।
छानबीन में जुटी पुलिस
पुलिस सूत्रों के अनुसार, सरकार त्रिलोचन सिंह 2 सितंबर को कनाडा जाने वाले थे। लेकिन उसके आगे क्या हुआ, वह क्यों नहीं गए और दिल्ली में कैसे रुके, इसकी अभी जांच की जा रही है। फिलहाल मौके पर लोकल पुलिस, टीम क्राइम टीम पहुंची हुई है और मामले की छानबीन की जा रही है। यह भी बताया जा रहा है कि इनकी मौत कई दिन पहले हो चुकी है। पुलिस के सूत्र कह रहे हैं कि जांच अभी शुरुआती दौर में है इसलिए अभी कुछ कहना मुश्किल है। पुलिस हर एंगल से मामले की जांच कर रही है।