बुन्देलखण्ड राज्य बनाए जाने की मांग को लेकर उप मुख्यमंत्री केशवप्रसाद मौर्य को बुन्देलखण्ड राष्ट्र समिति ने दिया ज्ञापन


 फतेहपुर ब्यूरो। उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य का आगमन फतेहपुर जिले में हुआ। बुन्देलखण्ड राष्ट्र समिति के केन्द्रीय अध्यक्ष प्रवीण पाण्डेय के नेतृत्व में बुन्देलखण्ड राज्य बनाए जाने की मांग को लेकर ज्ञापन देकर मांग किया कि संसद सत्र में आप बुंदेलखंड की बदहाली और शोषण से प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी  को अवगत कराएं एवं बुंदेलखंड राज्य निर्माण की मांग को संसद में सशक्त आवाज प्रदान करें।  प्रवीण पाण्डेय ने बताया की 2014 लोकसभा चुनाव के समय झांसी में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुंदेलखंड राज्य बनाए जाने का वादा किया था। सरकार के 7 वर्ष पूरे होने के बाद भी अभी राज्य नही बनाया गया। पिछले महीने चित्रकूट में आयोजित राष्ट्रीय स्वयं सेवक के महाधिवेशन में जिस तरह से बुंदेलखंड राज्य का मुद्दा उठा, उससे हम बुंदेले खासे उत्साहित हैं और हमें उम्मीद की किरण दिखने लगी है। चित्रकूट में अलग राज्य का मुद्दा मुखर करने में जो प्रशंसनीय भूमिका जगद्गुरु स्वामी राम भद्राचार्य जी ने निभाई, हम चाहते हैं कि वही भूमिका संसद के मानसून सत्र में आप निभाएं। हमीरपुर के सांसद पुष्पेन्द्र सिंह चंदेल कई बार लोकसभा में बुंदेलखंड राज्य का मुद्दा उठा चुके हैं लेकिन उनका साथ बुंदेलखंड के बाकी सांसदों ने नहीं दिया इसलिए उचित दबाव नहीं बन पाया। अब आप बुंदेलखंड की आवाज को उठाइए। जिस तरह सरकारें आर्थिक लाभ के लिए ऐतिहासिक, सांस्कृतिक धरोहरों को मिटाकर बुंदेलखंड को खनन हब बनाने में जुटी हुई हैं, उससे हम आने वाली पीढ़ी को क्या जबाव देंगे। बुंदेलखंड की अस्मिता, स्वाभिमान, भाषा, संस्कृति और संपदा बचाने के लिए बुंदेलखंड राज्य निर्माण बहुत जरूरी है। इस वक्त उत्तर प्रदेश, मध्यप्रदेश व केन्द्र तीनों जगह भाजपा की सरकार है। बुंदेलखंड राज्य निर्माण के लिए इससे अच्छा मौका फिर नहीं मिलेगा। इस मौके को बर्बाद मत जाने दीजिए। समिति के केंद्रीय प्रवक्ता देवब्रत त्रिपाठी ने  उपमुख्यमंत्री से मांग किया की अमर शहीद पत्रकार शिरोमणि श्री गणेश शंकर विद्यार्थी के पैत्रक गांव हथगाम या खागा में पत्रकारिता विश्वविद्यालय की स्थापना की जाए। चित्रकूट और बांदा से जुड़े हुए फतेहपुर के यमुनांचल गढ़ा, किशनपुर व भसरौल क्षेत्र में किसी एक स्थान पर उचित देखकर एक कृषि विश्वविद्यालय व चित्रकूट, कौशांबी जनपद से सटे हुए फतेहपुर जनपद के धाता या फिर दामपुर गांव में राजकीय महाविद्यालय की स्थापना की जाए। प्रथम स्वतंत्रता संग्राम के क्रांतिवीर अमर शहीद ठा. दरियाव सिंह का जीवन संघर्ष इतिहास के पाठ्यक्रम में शामिल किया जाए।  प्रवीण पाण्डेय ने कहा  कि  बुन्देलखण्ड राष्ट्र समिति पृथक बुन्देलखण्ड राज्य आंदोलन के साथ ही बुन्देलखण्ड क्षेत्र के सर्वांगीण विकास हेतु प्रयासरत है। बुन्देलियों के उच्च शिक्षा हेतु उपरोक्त बिन्दुओं में शीघ्र ही आपके द्वारा  नींव रखी जायेगी, ऐसा सभी को विश्वास है। ज्ञापन में खागा के ऐतिहासिक पक्का तालाब के पुनरोद्धार की मांग भी समिति द्वारा की गई है। समिति पक्का तालाब के पुनरोद्धार के लिए कई वर्षो से संघर्षरत है। समिति ने  उप मुख्यमंत्री से फ़तेहपुर जनपद में 68500 शिक्षक भर्ती और 12460 शिक्षक भर्ती में नियुक्त 1300 शिक्षकों के  06 माह से 12 माह तक का बकाया भुगतान करवाया जाय। पिछले 3 वर्षो से शिक्षक इंतजार में हैं। ज्ञापन देते समय दर्जनों बीआरएस कार्यकर्ता मौजूद रहे।