बिजनौर में खो-खो की नैशनल महिला खिलाड़ी की मौत का पुलिस ने किया खुलासा, रेप की कोशिश में नाकाम होने पर की हत्या


बिजनौर। उत्तर प्रदेश के बिजनौर में 24 साल की राष्ट्रीय स्तर की खो-खो खिलाड़ी की सनसनीखेज हत्या केस का खुलासा करते हुए पुलिस ने आरोपी को धर दबोचा है। आरोपी की पहचान 26 साल के शहजाद के तौर पर हुई है, जो कि नशे का आदी है। पुलिस ने घटना के 5 दिनों के अंदर आरोपी को गिरफ्तार कर खुलासा किया कि रेप की कोशिश में नाकाम रहने पर महिला खिलाड़ी की हत्या कर दी गई।
बिजनौर के एसपी धर्मवीर सिंह ने बताया, 'आरोपी शहजाद उर्फ खादिम ने अपना गुनाह कबूल कर लिया है। वह ट्रेनों से सामान उतारने का काम करता है। वह शादीशुदा है और दो महीने की बेटी भी है। उसे पता था कि पीड़िता घर जाने के लिए रेलवे ट्रैक से होकर जाती है। शुक्रवार को वह स्मैक और शराब के नशे में चूर था। उसने रेप के इरादे से युवती को खींच लिया। दोनों में संघर्ष हुआ और नाकाम रहने पर आरोपी ने रस्सी से गला घोंटकर युवती की हत्या कर दी।'
पुलिस ने बताया कि आरोपी ने हत्या के बाद पीड़िता का फोन भी ले लिया। हमला करने के वक्त वह दोस्त से फोन पर बात कर रही थी। दोस्त ने बाद में चीखने का ऑडियो कॉल भी पुलिस के साथ साझा किया, जिसमें वह मदद के लिए गुहार लगाती सुनाई दे रही है। पुलिस ने फोन को ट्रेस किया और लोकेशन आदमपुर गांव में मिली। गिरफ्तार आरोपी के पास से खून के धब्बे वाली शर्ट, रस्सी, आरोपी की चप्पल और शर्ट के टूटे बटन बरामद हुए। आरोपी के शरीर पर चोट के निशान भी हैं।
पुलिस अधीक्षक ने बताया कि पुलिस को घटनास्थल से शर्ट के दो बटन और एक चप्पल मिली थी। पुलिस ने शहजाद को गिरफ्तार करने के बाद उसके घर से उसकी शर्ट, एक चप्पल और रस्सी बरामद कर ली है। उन्होंने बताया कि पुलिस ने एफआईआर में हत्या और रेप के प्रयास की धारा भी जोड़ दी है। एसपी ने कहा कि पुलिस आरोपी को स्थानीय अदालत में पेश कर पूछताछ के लिए उसे पुलिस हिरासत में देने की मांग करेगी।
वहीं शहजाद के पिता खलील ने आरोपों को बेबुनियाद बताया है। उनका कहना है कि शहजाद का अपने भाई से झगड़ा हुआ था, जिस वजह से शरीर पर चोट और बटन टूटा मिला है। वह बेटे को रिहा करने की मांग करते हुए पुलिस स्टेशन के बाहर बैठ गए थे। दूसरी तरफ मृतका के पिता ने भी पुलिस के खुलासे से असंतुष्टि जताई है। उन्होंने कहा है कि उनकी बेटी खिलाड़ी थी और केवल एक इंसान ही उसे काबू नहीं कर सकता। इस वारदात में और लोग भी शामिल होंगे।