हिंदू महिलाओं के खिलाफ 'अपमानजनक' टिप्पणी करने पर नरसिंहानंद सरस्वती पर तीन केस दर्ज


गाजियाबाद ब्यूरो। गाजियाबाद के डासना स्थित शिव शक्ति धाम मंदिर के पुजारी यति नरसिंहानंद सरस्वती की मुश्किलें बढ़ गईं हैं। उनका एक वीडियो जमकर वायरल हो रहा है, जिसमें वह बीजेपी की महिला नेताओं के बारे में बेहद आपत्तिजनक बातें कहते दिख रहे हैं। महिलाओं के खिलाफ अलग-अलग वीडियो में आपत्तिजनक और अश्लील टिप्पणियां करने को लेकर यति नरसिंहानंद सरस्वती के खिलाफ गाजियाबाद में 3 केस दर्ज किए गए हैं।
दरअसल यति नरसिंहानंद सरस्वती किसी लाइव इंटरव्यू के लिए बैठे थे। इंटरव्यू शुरू होने से पहले उन्होंने जो बोला, वह वहां खड़े किसी शख्स ने रिकॉर्ड कर लिया और वायरल कर दिया। वायरल वीडियो 4 जुलाई का बताया जा रहा है। वायरल होने के बाद इस पर बवाल हो गया।
वीडियो में नरसिंहानंद कहते हैं, 'ये अमूल्य ज्ञान कहीं दुनिया में सुनने को नहीं मिलेगा। राजनीति में जो महिलाएं दिखाई पड़ती थीं वो किसी न किसी एक नेता की हुआ करती थीं। या किसी बड़े नेता की बेटी-बहन या बहू-पत्नी,उसके बाद आई समाजवादी पार्टी वालों की सरकार, वहां भी महिला किसी एक की ही होती थी। फिर आई मायावती की सरकार, ये औरतों वाला मामला उनकी सरकार में नहीं चलता था। वहां कोई भी नेता किसी भी औरत को टिकट नहीं दिलवा सकते। न वादा कर सकते कि मैं तुम्हारी सिफारिश बहनजी से कर दूंगा। पता चला कि बहनजी ने उसका ही टिकट काट दिया।
नरसिंहानंद ने आगे कहा, 'इसके बाद आई ईमानदार सरकार और बहुत चरित्रवान लोगों की सरकार...अब सरकारी ठेकों का रेट हो गया 10 पर्सेंट...खुला रेट।  बीजेपी में जितनी भी महिलाएं दिखाई दे रही हैं, वह एक नेता के पास गईं और दूसरे के पास नहीं तो दूसरा उनका काम नहीं करेगा...तीसरे से काम है तो तीसरे के पास जाना है। अब ये हैं ईमानदार और चरित्रवान लोग। ये है राजनीति। जितनी महिलाएं राजनीति करती घूम रही हैं, पूरा मजा आ रहा है। मैं कह तो कुछ नहीं सकता, मातृशक्ति हैं...मैं मातृशक्ति को प्रणाम करता हूं।