बिहार के नालंदा में एक गांव में नहीं हैं एक भी मुस्लिम परिवार, हिन्दू देते हैं यहां की मस्जिद में पांचों वक्त की अजान


नालंदा। बिहार के नालंदा में बनी इस मस्जिद और मजार को देखकर बाहर से आने वाले लोग यही सोचते हैं कि गांव में मुस्लिमों की भी ठीक-ठाक आबादी होगी। रोज वक्त पर अजान होती है, मस्जिद की साफ-सफाई का भी पूरा ध्यान रखा जाता है। लेकिन लोग ये जानकर हैरान रह जाते हैं कि बेन प्रखंड के माड़ी गांव में एक भी मुस्लिम परिवार नहीं है।
जी हां, लगभग 80 सालों से गांव में एक भी मुस्लिम परिवार नहीं है, लेकिन मस्जिद से पांचों वक्त की अजान होती है और रखरखाव में भी कोई कमी नहीं छोड़ी जाती। दरअसल, गांव के हिंदुओं की इस मस्जिद में भी गहरी आस्था जुड़ गई है। मंदिर मस्जिद में वे फर्क नहीं करते।
आप सोच रहे होंगे कि मस्जिद में अजान कैसे दी जाती है, तो आपको बता दें कि इसके लिए पेन ड्राइव के जरिए रिकॉर्डिंग को प्ले किया जाता है। हर खुशी के मौके पर मस्जिद के बाहर लोग मत्था टेकते हैं। मान्यता है कि जो ऐसा नहीं करता, उस पर कोई ना कोई आफत जरूर आती है।