चांदनी चौक के रिक्शवालों की भी बदलेगी सूरत, वर्दी में दिखेंगे, बोलेंगे इंग्लिश


नई दिल्ली। अगर आप कभी चांदनी चौक जाएं तो रिक्शे वालों को अंग्रेजी बोलते देख हैरत में न पड़े। रिक्शे वाले भी आपको सर कहकर संबोधित करेंगे और नए डिजाइन और नई वर्दी में चांदनी चौक रोड की सैर कराएंगे। एमसीडी ने पहले चरण में ऐसे 106 रिक्शेवालों को अंग्रेजी बोलने और बेहतर व्यवहार करने की ट्रेनिंग दी है। दूसरे फेज में 194 और रिक्शों का लाइसेंस एमसीडी जारी करेगी। शराब पीकर अगर कोई रिक्शा चलाते पकड़ा जाता है, तो उसका लाइसेंस कैंसल कर दिया जाएगा। चांदनी चौक रोड पर रिक्शा चलाने के लिए एमसीडी ने नई गाइडलाइंस भी तैयार की है।
चांदनी चौक में रोड पर गाड़ियों की एंट्री पर प्रतिबंध है। सिर्फ नॉन-मोटराइज्ड गाड़ियां ही चल सकती हैं। इनकी संख्या भी सीमित ही रहेगी। 300 रिक्शों को लाइसेंस एमसीडी जारी करेगी, जिसमें से पहले फेज में 106 लोगों को लाइसेंस दिया गया है। 13 सितंबर से 106 रिक्शों का खेप चांदनी चौक की सड़कों पर उतारी गई हैं। जितने रिक्शा चालकों को लाइसेंस एमसीडी ने जारी की है, उन्हें यहां रिक्शा चलाने के लिए ट्रेनिंग भी दी गई है।
कश्मीरी गेट के एमसीडी जोनल ऑफिस में रिक्शे वालों को कुछ दिनों तक ट्रेनिंग दी गई थी। उन्हें सख्त हिदायत दी गई है कि वे किसी के साथ बदतमीजी न करें। नशे से दूर रहें और शराब पीकर रिक्शा चलाते पकड़े जाने पर लाइसेंस रद्द कर दिया जाएगा। इसके अलावा जहां-तहां अगर कोई थूकता है, तो उसे भी वे टोकें। रिक्शा चालक राकेश उमा राव का कहना है कि उन्हें विदेशी पयर्टकों से अंग्रेजी बात करने के लिए कुछ वाक्यों को सिखाया गया गया है, जिसमें उन्हें कहां जाना है। रिक्शे का किराया कितना है। इसके अलावा अगर चांदनी चौक के किसी हिस्से में जाना हैं और मशहूर चीजों के बारे में जानना चाहते हैं, तो उसके बारे में भी जानकारी देने के लिए अंग्रेजी में बताया गया है।
नई वर्दी और नए डिजाइन का रिक्शा
नॉर्थ एमसीडी स्टैंडिंग कमिटी चेयरमैन जोगीराम जैन के अनुसार पहले फेज में जो 106 रिक्शे चांदनी चौक की सड़कों पर उतारा गया है, उसका कलर लाल है। रिक्शा चालकों की वर्दी भी रिक्शे की कलर से मिलती जुलती है। उनकी टोपी भी रिक्शे के कलर की है। ट्रैक पैंट सुनहरे कलर की है। लाल किला से फतेहपुरी तक रिक्शे की सवारी का किराया एमसीडी ने 20 रुपये तय की है। प्रत्येक 10 रिक्शा चालकों पर एक सिविल डिफेंस वालंटियर नियुक्त किया जाएगा।