वर्दी से दोस्ती कर 10 साल में करोड़पति बना तस्कर बाबू सिंधी, बर्थडे पर बंदूक से काटा केक, कई पुलिसकर्मी सस्पेंड


नीमच,(मध्य प्रदेश)। तस्कर बाबू सिंधी के लग्जरी पार्टी में शामिल होना नीमच में कुछ पुलिसवालों को भारी पड़ गया है। नीमच के बड़े तस्कर बाबू सिंधी के बर्थडे पार्टी में एक टीआई और कॉन्स्टेबल शामिल हुए थे। पुलिस के सामने ही बाबू सिंधी ने बंदूक से केक काटा था। केक कटिंग का वीडियो अब सोशल मीडिया पर वायरल है। वीडियो वायरल होने के बाद जिले में हड़कंप मच गया था। बताया जा रहा है कि यह वीडियो पुराना है क्योंकि बाबू सिंधी अभी जेल में बंद है। दरअसल, तीन दिन पहले सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हुआ। वायरल वीडियो में तस्कर बाबू सिंधी बंदूक से केक काट रहा है। बर्थडे का सेलिब्रेशन भव्य घर में हो रहा है। इस दौरान बाबू सिंधी के कुछ खास लोग और पुलिस के लोग मौजूद थे। वीडियो में तत्कालीन टीआई नरेंद्र सिंह ठाकुर और पुलिस कॉन्स्टेबल पंकज कुमावत दिख रहे थे। वीडियो सामने आते ही जिले में बवाल हो गया है।
अवैध कारोबार के जरिए बाबू सिंधी ने करोड़ों रुपये की संपत्ति बनाई है। सूत्र बताते हैं कि उसके साथ कई पुलिसकर्मियों की दोस्ती थी। नीमच में बाबू सिंधी उर्फ जयगुरुदेव के लग्जरी मकान और फॉर्म हाउस है, जिसकी कीमत एक करोड़ से अधिक है। उसके घर में तमाम आधुनिक लग्जरी सुविधाएं उपलब्ध हैं। केक कटिंग के दौरान इस्तेमाल किए गए बंदूक की तलाश में नीमच पुलिस की टीम ने रविवार को छापेमारी की है। इस दौरान बंदूक हाथ नहीं लगा है।
अवैध कारोबार के जरिए बाबू सिंधी ने करोड़ों रुपये की संपत्ति बनाई है। सूत्र बताते हैं कि उसके साथ कई पुलिसकर्मियों की दोस्ती थी। नीमच में बाबू सिंधी उर्फ जयगुरुदेव के लग्जरी मकान और फॉर्म हाउस है, जिसकी कीमत एक करोड़ से अधिक है। उसके घर में तमाम आधुनिक लग्जरी सुविधाएं उपलब्ध हैं। केक कटिंग के दौरान इस्तेमाल किए गए बंदूक की तलाश में नीमच पुलिस की टीम ने रविवार को छापेमारी की है। इस दौरान बंदूक हाथ नहीं लगा है। वहीं, तस्कर बाबू सिंधी अभी कनावटी जेल में बंद है। उसके ऊपर 255 क्विंटल डोडाचूरा,अफीम अंश युक्त कालादान, धोलापाली की तस्करी के आरोप हैं। इसे 26 अगस्त एनसीबी की टीम ने गिरफ्तार किया था। इसकी गिरफ्तारी के बाद से कॉन्स्टेबल पंकज कुमावत ड्यूटी से गायब चल रहा था। जांच के दौरान ये पुलिसकर्मी एनसीबी के रडार पर भी आ सकते थे। नीमच एसपी ने सस्पेंड करने के बाद इनके खिलाफ विभागीय जांच के आदेश भी दिए हैं।
बताया जाता है कि जय सबनानी उर्फ बाबू सिंधी मूल रूप से मंदसौर का रहने वाला है। नीमच में कुछ साल पहले वह साइकल पर चलता था। कंट्रोल के गेहूं और चावल खरीदने का वह काम करता था। इसके बाद कुछ तस्करों के संपर्क में आकर नीमच मंडी में लाइसेंस बनाकर पोस्तादान की आड़ में डोडाचूरा की तस्करी करने लगा। दस सालों के अंदर इसके जरिए उसने करोड़ों की संपत्ति बना ली है। मंदसौर और नीमच में इसके पास आलीशान बंगले हैं।