आगरा में थाने के मालखाने में रखे 25 लाख रुपये गायब, एसएचओ समेत 5 पुलिसकर्मी सस्‍पेंड


आगरा,(उत्तर प्रदेश)। आगरा के एक थाने से 25 लाख रुपये की नकदी चोरी होने के मामले में थाना प्रभारी सहित पांच पुलिस कर्मियों को निलंबित कर दिया गया है। आगरा के थाना जगदीशपुरा के मालखाने से 25 लाख रुपये नकदी चोरी होने के संबंध में अतिरिक्त महानिदेशक (एडीजी), आगरा, राजीव कृष्ण ने लापरवाही बरतने के मामले में थाना जगदीशपुरा के प्रभारी अनूप कुमार तिवारी, सब इंसपेक्टर राम निवास के साथ ही रात में ड्यूटी कर रहे तीन पुलिस कर्मियों को निलंबित कर दिया है। इस मामले में वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक मुनिराज को जल्द से जल्द चोर को गिरफ्तार कर 25 लाख रुपये जब्त करने के निर्देश दिए गए हैं। एडीजी ने बताया कि आगरा की आवास विकास कॉलोनी के निवासी रेलवे के ठेकेदार प्रेमचंद के घर से कुछ दिन पहले सोने के सात बिस्कुट और नकदी चोरी हो गयी थी। इस मामले में 13 अक्टूबर को पुलिस ने चोरी करने के आरोप में प्रेम चंद के दूर के रिश्तेदार जसवंत नगर इटावा निवासी रोहित को गिरफ्तार कर लिया था, जिसके पास से 24 लाख रुपये नकद और पांच सोने के बिस्कुट जब्त किए गए थे। इस नकदी को थाना जगदीशपुरा के मालखाना में रखा गया था। चोर जब्त किए गए 24 लाख रुपये नकद के साथ ही पहले से ही थाने के मालखाने में रखे एक लाख रुपये नकदी को भी चोरी कर ले गए।
मालखाने में 25 लाख रुपये की चोरी का शक एक सफाईकर्मी पर है। सफाईकर्मी थाने में भी सफाई का काम करता है। घटना के बाद से अपने घर से फरार है। पुलिस उसकी तलाश में जुटी हुई है। चोरी में किसी जानकार का हाथ होने का अंदेशा जताया गया था। पुलिस ने 25 से अधिक लोगों से पूछताछ की। इसमें चौकीदार और अन्य भी शामिल थे। सफाई कर्मचारी को भी शक के घेरे में लिया गया था। पुलिस सफाई कर्मचारी के घर पहुंची। उसका घर खंगाला। सूत्रों की मानें तो घर में कुछ कैश मिला। हालांकि अधिकारी इसकी पुष्टि नहीं कर रहे हैं।  सफाई कर्मचारी के बारे में परिजन नहीं बता सके उन्हें यह नहीं पता था वह कहां गया हुआ है। पुलिस अब सफाई कर्मचारी की तलाश में जुट गई है। सफाई कर्मचारी के दो भाई पुलिस को मिल गए हैं। एक थाने में बैठा है। दूसरा पुलिस के साथ सफाई कर्मचारी की तलाश में जुटा है। 25 लाख की चोरी में पुलिस को अब पूरा शक सफाई कर्मचारी पर ही है।