ललितपुर नाबालिग रेप केस में सपा-बसपा जिलाध्‍यक्ष समेत 3 अरेस्‍ट, 21 अब भी फरार,28 लोगों पर रेप का आरोप


ललितपुर,(उत्तर प्रदेश)। यूपी के ललितपुर में 17 साल की नाबालिग के साथ हुए रेप की घटना में आरोपित एसपी-बीएसपी के जिलाध्यक्ष सहित सहित तीन आरोपियों को एसओजी टीम ने मिर्जापुर में एक होटल से गिरफ्तार कर लिया। वहीं फरार चल रहे 21 आरोपियों की तलाश में पुलिस टीमें लगी हैं। दरअसल आरोपियों को पकड़ने के लिए झांसी, जालौन व ललितपुर जिले की 10 टीमों ने 15 घंटो में 20 से अधिक जगहों पर दबिश दी थी।
पुलिस अधीक्षक निखिल पाठक ने बताया कि नाबालिग किशोरी रेप मामले में आरोपित समाजवादी पार्टी जिलाध्यक्ष तिलक यादव , बहुजन समाज पार्टी के जिलाध्यक्ष दीपक अहिरवार व बर्खास्त अवर अभियंता महेंद्र दुबे को गिरफ्तार कर लिया है। उन्होंने बताया कि अब तक पीड़िता के आरोपी पिता सहित 7 आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है। एसओजी टीम प्रभारी अंजनी कुमार सिंह ने बताया कि मिर्जापुर जिले में देर रात एसपी बीएसपी जिलाध्यक्ष और बर्खास्त जेई को मिर्जापुर जिले से गिरफ्तार किया है।
आरोपियों को पकड़ने के लिए लगाईं गईं 3 जिलों की 10 टीमें
पुलिस ने पूरे मामले में गुरुवार को पीड़िता के आरोपी पिता सहित चार आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया था। पुलिस अधीक्षक निखिल पाठक ने शासन के निर्देश पर एसआईटी टीम का गठन किया गया। आरोपियों को पकड़ने के लिए झांसी जिले की 2 टीमें ,जालौन जिले की 1 टीम व ललितपुर जिले की सात टीमें लगाई गई हैं।
मां ने पति सहित परिवार के 11 लोगों पर दर्ज कराया मुकदमा
इसके अलावा पीड़िता की मां ने भी अपने पति पर 18 साल पहले उसका अपहरण करके और डरा धमकाकर शादी करने का मामला दर्ज कराया है। इसके साथ आए दिन मारपीट करने व उसके नाबालिग बेटी के साथ भी रेप करने के आरोप लगाते हुए परिवार के सास, ननद, देवर, सहित 11 लोगों पर गुरुवार को एफआईआर दर्ज कराई है।
दूसरी तरफ, एसपी व बीएसपी जिलाध्यक्ष को निर्दोष बताते हुए मामले की निष्पक्ष जांच कराए जाने के लिए एसपी के 251 कार्यकर्ताओं ने धारा 144 लागू होने के बावजूद पुलिस अधीक्षक कार्यालय में प्रदर्शन करते हुए पीड़िता का नाम उजागर कर दिया था। इस मामले में झांसी जिले के समाजवादी पार्टी जिलाध्यक्ष महेश कश्यप सहित 251 लोगों और बीएसपी के 204 कार्यकर्ताओं पर एफआईआर दर्ज की गई है।
ललितपुर कोतवाली सदर के एक मोहल्ले की 17 साल की किशोरी ने 12 अक्टूबर को रिपोर्ट दर्ज कराई थी। उसने बताया था कि जब वह स्कूल में पढ़ती थी, उसी समय एक रात उसके पिता ने उसे मोबाइल पर गन्दी फ़िल्म दिखाई और खेत में ले जाकर रेप किया । यहीं नहीं, उसे स्कूल से ले जाकर आए दिन होटल में बेहोश कर अन्य लोगों को सौंप दिया जाता था। उसने अपने चाचा, ताऊ सहित समाजवादी पार्टी के जिलाध्यक्ष तिलक यादव ,नगर अध्यक्ष, बीएसपी जिलाध्यक्ष दीपक अहिवार सहित 28 लोगों पर 6 साल में कई बार रेप किए जाने का आरोप लगाया है।