खाने में नशा देकर परिवार को किया बेहोश, 3 करोड़ का सामान और कार ले रफूचक्कर हो गए नौकर


दिल्ली ब्यूरो। जाने माने टूर एंड ट्रैवल कारोबारी अदीब सिंह बिंद्रा के परिवार को घर के नौकर नौकरानियां खाने में नशा देकर साढ़े तीन करोड़ की जूलरी, कैश व अन्य सामान समेट कर फरार हो गए। यह सनसनीखेज वारदात 23 अक्टूबर की रात की है। चारों बदमाश कोठी में खड़ी कारोबारी की फॉरच्यूनर कार भी अपने साथ ले गए। सभी मूल रूप से नेपाल के हैं। घटना का खुलासा उस समय हुआ जब रात को साढ़े चार बजे फंक्शन से परिवार के साथ लौटे अदीब सिंह बिंद्रा घर पहुंचे। उन्होंने देखा कि अपर ग्राउंड फ्लोर के किचन की लाइट जल रही थी। अदीब पहली मंजिल के ड्रेसिंग रूम में गए तो वहां अलमारियों के ताले टूटे हुए थे। घर का सामान भी बिखरा था। फर्श पर अदीब की मां अमिंदरजीत कौर व बेड पर दलजीत सिंह बेहोश पड़े थे। अदीब ने मामले की सूचना पुलिस व एंबुलेंस को दी। खबर मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंच गई।
सर्वेंट रूम में दो अन्य नौकर भी लगभग बेहोशी की हालत में मिले थे। सभी को नजदीकी प्राइवेट अस्पताल में भर्ती कराया गया। जहां बुजुर्ग माता-पिता का इलाज जारी है। जबकि राज और प्रदीप नाम के दो नौकर को इलाज के बाद छुट्टी दे दी गई है। पंजाबी बाग थाना पुलिस ने मामला दर्ज कर छानबीन शुरू कर दी है। जांच के लिए स्पेशल स्टाफ, थाने की पुलिस टीम व अन्य को लगाया गया है। शुरुआती जांच के बाद पुलिस को सीसीटीवी कैमरों से अहम सुराग हाथ लगे हैं।
पुलिस सूत्रों का कहना है कि उत्तराखंड पुलिस की मदद से दिल्ली पुलिस की टीम ने दो आरोपियों को वहां से दबोचा है। उनको दिल्ली लेकर आ रहे हैं। पुलिस के मुताबिक, अदीब सिंह बिंद्रा परिवार के साथ वेस्ट पंजाबी बाग स्थित अपनी कोठी में रहते हैं। इनका बिंदरा टूर एंड ट्रैवल के नाम से कारोबार है। पिछले करीब छह साल से इनके यहां नेपाल का रहने वाला करण शार्की हेड कुक की नौकरी कर रहा था। वहीं राजू सफाई व दूसरे काम कर रहा था। प्रीति और दीपा घर में मेड का काम करते थे। इसके अलावा घर में राज व प्रदीप भी काम करते हैं। सभी नेपाल के रहने वाले हैं। अदीब ने ग्राउंड फ्लोर पर सर्वेंट क्वार्टर बनाए हुए हैं, जहां इनके नौकर रहते हैं। अदीब ने घर का सामान चेक किया तो वहां अल्मारियों में रखे करीब 70 लाख कैश, हीरे सोने की जूलरी, कीमती घड़ियां व अन्य सामान गायब था। अदीब ने पुलिस को बयान दिया कि करीब तीन करोड़ का सामान लेकर भागे हैं। घर से एक फॉरच्यूनर गाड़ी भी गायब मिली। जांच के दौरान पता चला कि आरोपियों ने परिजनों को खाने में कुछ नशीला पदार्थ देकर बेहोश किया। इसके बाद पूरे घर की तलाशी लेकर माल उड़ा लिया। वारदात के बाद आरोपी घर में खड़ी गाड़ी भी अपने साथ ले गए। पुलिस की बाकी टीमें भी आरोपियों की तलाश में जुटी हैं।

Popular posts from this blog

उत्तर पूर्वी जिला पुलिस ने ऑपरेशन अंकुश के तहत छेनू गैंग के चार बदमाशों को किया गिरफ्तार

जीटीबी एंक्लेव थाने में तैनात दिल्ली पुलिस की महिला एसआई ने लगा ली फांसी, पुलिस ने बचाई जान

रोटरी क्लब इंदिरपुरम परिवार के पूर्व प्रधान सुशील चांडक को ज़ोन २० का बनाया गया असिस्टंट गवर्नर