गौतमबुद्धनगर के जेवर में 55 वर्षीय महिला के साथ चार लोगों ने किया सामूहिक दुष्कर्म


गौतमबुद्धनगर। जेवर कोतवाली क्षेत्र के एक गांव में रविवार सुबह हथियारों के बल पर 55 वर्षीय दलित महिला से चार लोगों ने सामूहिक दुष्कर्म कर दिया। नोएडा एयरपोर्ट के लिए अधिगृहीत जमीन पर घात लगाए बैठे आरोपी महिला से दरिंदगी कर फरार हो गए। राहगीरों की सूचना के बाद परिजनों और पुलिस ने महिला को पहले जेवर के प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया। फिर गंभीर हालत को देखते हुए जिला अस्पताल नोएडा के लिए रेफर कर दिया। बताया जा रहा है कि महिला के निजी अंगों में गंभीर चोट और खून नहीं रुकने के कारण उसका ऑपरेशन किया गया है। पुलिस ने महिला के पति की शिकायत पर गांव के ही एक नामजद और तीन अज्ञात आरोपियों पर केस दर्ज किया है। वहीं, पांच संदिग्धों को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है। 
पुलिस के मुताबिक, सुबह 9:30 बजे दयानतपुर गांव निवासी महिला रोज की तरह पशुओं के लिए चारा लेने नोएडा एयरपोर्ट की जमीन पर गई थी। पति का आरोप है कि गांव का महेंद्र भी चारा के लिए गया हुआ था। मौके पर वह अपने तीन साथियों के साथ बैठा था। जैसे ही उसकी पत्नी रजवाहे के किनारे पहुंची तो आरोपी हथियारों के बल पर खींचकर जंगल में ले गए और सामूहिक दुष्कर्म किया। घटना के बाद आरोपी फरार हो गए। 
राहगीरों की सूचना के बाद मौके पर पहुंचे परिजनों ने महिला को जेवर के प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया। यहां डाक्टरों ने महिला की गंभीर स्थिति को देखते हुए जिला अस्पताल के लिए रेफर कर दिया। महिला के पति की शिकायत पर जेवर कोतवाली पुलिस ने महेंद्र (28) और तीन अज्ञात आरोपियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज करते हुए पांच संदिग्ध आरोपियों को हिरासत में लिया है। डॉग स्क्वॉड और फोरेंसिक टीम ने भी मौके का निरीक्षण किया है। पुलिस आरोपियों की तलाश कर रही है। अस्पताल में महिला की सुरक्षा के लिए पुलिसकर्मी तैनात किए गए हैं।
नशे का आदी है मुख्य आरोपी
पुलिस ने बताया कि मुख्य आरोपी गांजा आदि के नशे का आदी है। आरोपी रजवाहे के आसपास मवेशियों को चराने जाता था। रविवार को भी रजवाहे के पास मवेशियों को चराने के लिए गया था। घटना के बाद से सभी आरोपी फरार हैं। पांच टीमें आरोपियों को पकड़ने के लिए लगाई गई हैं। डीसीपी महिला सुरक्षा वृंदा शुक्ला ने बताया कि तीन अन्य आरोपियों को पीड़िता पहचान नहीं पा रही है। महिला की हालत फिलहाल स्थिर है। सर्विलांस व पुलिस की अन्य टीमें जांच करने और आरोपियों की तलाश में जुटी हैं। मुख्य आरोपी की गिरफ्तारी के बाद अन्य आरोपियों के संबंध में पता चलेगा।