बुलंदशहर में 72 लाख की लूट निकली फर्जी, जूलर के ड्राइवर ने ही बनाया था 'मास्टरप्लान', 6 गिरफ्तार


बुलंदशहर,(उत्तर प्रदेश)। बुलंदशहर में इनकम टैक्स अधिकारी बताकर हुई 72 लाख की लूट मामले का खुलासा पुलिस ने कर दिया है। इस मामले में पुलिस ने जूलर के ड्राइवर समेत 6 बदमाशों को गिरफ्तार किया है। उनके कब्जे से 66 लाख रुपये बरामद किए हैं। पुलिस का कहना है कि आरोपी इनकम टैक्स के अधिकारी बनकर कार से 70.50 लाख रुपये से भरा बैग लेकर गए थे। 72 लाख रुपये लूट का मास्टरमाइंड जूलर का ड्राईवर है।
बीते 11 अक्टूबर को कासगंज के एक सर्राफा का मुनीम दिल्ली के चांदनी चौक से 72 लाख के गहने खरीदने के लिए निकला था। मुनीम अपनी टीयूवी कार में सवार होकर बुलंदशहर स्थित नेशनल हाईवे—91 पर पहुंचा। उसी दौरान पहले से वहां मौजूद कुछ लोगों ने कार को रुकवा लिया और खुद को इनकम टैक्स का अधिकारी बताया। डॉक्यूमेंट्स चेक करने के बहाने सभी मुनीम की कार में सवार हो गए। थोड़ी दूर जाने के बाद आरोपी में रखा नोटों से भरा बैग लेकर गायब हो गए। घटना के बाद पीड़ित मुनीम ने खुर्जा नगर कोतवाली में अज्ञात आरोपियों के खिलाफ 72 लाख की लूट का मामला दर्ज कराया था। जबकि पुलिस जांच में सामने आया कि पूरी घटना की साजिश सर्राफा के चालक द्वारा ही रची गई थी। फिलहाल पुलिस ने आरोपी चालक समेत 6 लोगों को गिरफ्तार कर वारदात का खुलासा कर दिया है। पकड़े गए आरोपियों के कब्जे से 66 लाख रुपये भी बरामद कर लिए है।
एसएसपी संतोष कुमार सिंह ने बताया कि पूछताछ के दौरान 70 लाख कैश लूटने की बात आरोपियों ने कबूल की है। पूछताछ में पता चला है कि मामले में मास्टरमाइंड ड्राइवर था जिसने गाजियाबाद निवासी अपने साथी को इनकम टैक्स का अधिकारी बना कर गाड़ी लेकर खड़ा किया गया था उसके बाद घटना को अंजाम दिया पुलिस ने आरोपियों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है।