गरबा पंडालों में गैर हिंदुओं के प्रवेश पर रोक, रतलाम में विश्व हिंदू परिषद के नेता ने लगाए बैनर


  • रतलाम में गरबा पंडालों के बाहर लगे पोस्टर
  • गैर हिंदू का प्रवेश गरबा पंडालों में है वर्जित
  • पंडाल के अंदर आने वाले लोगों की जांच की जाएगी आईडी
  • गड़बड़ मिलने पर पुलिस को दी जाएगी जानकारी
रतलाम,(मध्य प्रदेश)। रतलाम जिले में गरबा पंडालों के बाहर वीएचपी नेता ने पोस्टर लगवाए हैं। उन पोस्टरों पर लिखा है कि गैर हिंदू को गरबा प्रांगण में प्रवेश वर्जित है। वीएचपी के इस पोस्टर का गरबा के आयोजनकर्ताओं ने भी समर्थन किया है। आयोजक ने कहा है कि हम असामाजिक तत्वों पर नजर रखेंगे। अब वीएचपी का यह पोस्टर सोशल मीडिया पर वायरल है। साथ ही कई तरह के सवाल भी उठ रहे हैं।
वीएचपी के जिला महामंत्री चंदन शर्मा ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि हमने हर पोस्टर में लिखा है कि गैर हिंदू का प्रवेश वर्जित है। कुछ धर्म विशेष के लोग आते हैं, हमारा उनसे सवाल है कि जब हिंदू लड़की गरबा करें तो वह क्यों आएं। अगर उन्हें गरबा से प्रेम है तो वह अपने घर से महिलाओं को भी गरबा खेलने के लिए ले आएं। वीएचपी नेता ने कहा कि हम आईडी देखकर उन्हें रोकेंगे। सभी पंडालों में ऐसे पोस्टर लगाए हैं।
पोस्टर लगवाने वाले नेता ने कहा कि हम उन्हें चिह्नित करेंगे और पुलिस को सूचित करेंगे। वीएचपी के इस मुहिम को आयोजकों ने भी समर्थन दिया है। उनलोगों ने भी कहा है कि हम अपने पंडालों में महिला और पुरुषों के लिए अलग-अलग व्यवस्था करते हैं। आयोजकों ने कहा कि हमें अपने क्षेत्र के दर्शकों और लोगों की पहचान है। हम हर साल अपने इलाके में गरबे का आयोजन करते हैं। बाहरी व्यक्तियों की पहचान करना हमारे लिए आसान है। कुछ लोगों ने यह भी कहा है कि हम पंडाल में आने वाले लोगों के लिए तिलक लगाने की भी व्यवस्था करेंगे। गौरतलब है कि देश के अलग-अलग हिस्सों से इस तरह की खबरें आते रहती हैं। पंडाल में गैर हिंदुओं की एंट्री पर पाबंदी रहती है।