बागपत में जयंत चौधरी के मंच पर बदसलूकी के बाद रालोद की महिला नेता ने दिया इस्तीफा


बागपत,(उत्तर प्रदेश)। बागपत जिले में आरएलडी की आर्शीवाद पथ रैली में अपमानित महिला जिलाध्यक्ष ने इस्तीफा दे दिया। जिलाध्यक्ष पर महिलाओं को अपमानित करने का आरोप लगाते हुए मंच पर हंगामा हुआ, जिसके बाद मंच के बाहर मारपीट हो गई। बड़ौत स्थित जनता वैदिक महाविद्यालय के मैदान में शनिवार को रालोद की आर्शीवाद पथ रैली आयोजित की गई थी। रैली में रालोद जाट नेता जयंत चौधरी के पहुंचने से पहले मंच पर बैठने को लेकर रालोद नेताओं में होड़ मची। महिला मोर्चे की जिलाध्यक्ष रेणु तोमर और महिला राष्ट्रीय जिलाध्यक्ष प्रियंवदा तोमर मंच पर पहुंचीं। माहिला पदाधिकारियों का आरोप है कि जिलाध्यक्ष जगपाल तैवतिया ने उनको मंच से अपमानित किया और वहां से चले जाने को कहा।
जिलाध्यक्ष से अपमानित होने के बाद मंच पर हंगामा हो गया। मंच के बाहर निकली महिला जिलाध्यक्ष रेणु तोमर के साथ आए कार्यकर्ताओं के बीच हंगामा हुआ और मारपीट भी हुई जिससे क्षुब्ध महिला मोर्चे की जिलाध्यक्ष रेणु तोमर ने रालोद पार्टी में महिलाओं के अपमान होने की बात कही। मीडिया को बयान देते हुए महिला मोर्चे की जिलाध्यक्ष रेणु तोमर ने इस्तीफा दे दिया।
रालोद नेता जयंत चौधरी की आर्शीवाद रैली इसलिए आयोजित की गई थी कि जाट नेता जयंत चौधरी को खाप चौधरी पगड़ी पहनाकर उनको अपना आर्शीवाद देगें लेकिन मंच हंगामे की भेंट चढ़ गया। भीड़ का जोश मारपीट और हंगाामे में बदल गया। कार्यकताओं ने खुलकर शराब का सेवन किया। आर्शीवाद पथ रैली की झलकियां सोशल मीडिया पर तेजी के साथ वायल हो रही हैं।