प्रयागराज में महिला का मर्डर, बोरे में भरकर शव ठिकाने लगाने ले जा रहा था आरोपी, प्रेम प्रसंग में हत्या की आशंका


प्रयागराज,(उत्तर प्रदेश)।
प्रयागराज के कौंधियारा थाने इलाके में बुधवार को एक चौंकाने वाला मामला सामने आया है। गांव का एक शख्स एक महिला की हत्या कर डेड बॉडी को बोरे में भरकर साइकिल पर लादकर ठिकाने लगाने निकल पड़ा। रास्ते से गुजरते ग्रामीणों ने जब उससे पूछा कि बोरे में क्या है तो आरोपी मौके पर डेड बॉडी छोड़कर पैदल ही फरार हो गया। आनन-फानन में ग्रामीणों ने इस बात की सूचना स्थानीय पुलिस को दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने जब साइकिल पर लदे बोरे को खोला तो ग्रामीणों समेत सभी के होश उड़ गए। बोरे में एक महिला का शव था। फिलहाल पुलिस ने डेड बॉडी को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया है और इस घटना की तफ्तीश में जुट गई है।
प्रयागराज कौंधियारा अंबा गांव नहर की पुलिया से गुजरते साइकिल सवार की बोरी से जब कुछ खून की बूंद टपकते देखा तो शक होने पर ग्रामीणों ने जब पूछा तो हत्यारा तेजी से साइकिल चलाकर भगाने लगा। इस दौरान साइकिल से लड़खड़ा कर हत्यारा गिर गया और फिर साइकिल और डेड बॉडी को छोड़कर मौके से फरार हो गया। सूचना पर पहुंची पुलिस ने जब डेड बॉडी की शिनाख्त की तो रीता देवी के रूप में पहचान हुई। घटना की सूचना पुलिस ने महिला के घर वालों को दी।
मौके पर पहुंचे मृतक महिला के देवर विनोद सिंह ने पुलिस को बताया की इनके पति अरुण कुमार किसी काम से बाहर गए थे। उसी दौरान यह घर से निकली थीं। वहीं देवर विनोद कुमार सिंह ने गांव के ही अच्छेलाल के खिलाफ लिखित शिकायत पुलिस को दी है, जिसमें फोन के विवाद की बात तहरीर में लिखी है। देवर विनोद सिंह के मुताबिक आरोपी अच्छेलाल ने 15 दिन पहले रीता देवी को मोबाइल दिया था, जिसको लेकर विवाद हुआ था।
प्रयागराज में बुधवार को हुई इस सनसनीखेज वारदात के बाद गांव में सन्नाटा है। वहीं पुलिस हत्या के आरोपी अच्छे लाल गुप्ता की तलाश में जुट गई है। घटना के संबंध में एसपी यमुनापार सौरभ दीक्षित ने बताया इस हत्या के पीछे फोन पर बात करने का विवाद है। परिवार की तरफ से तहरीर मिल गई है। जल्दी हम लोग आरोपी को अरेस्ट कर लेंगे। वहीं सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक महिला आए दिन अच्छेलाल से बात करती थी और परिवार वालों ने कई बार रोका फिर भी महिला फोन पर आरोपी अच्छेलाल से बात किया करती थी।