यूपी पुलिस का कारनामा: थाने के मालखाने में रखे गांजे की महिला स्मगलर से कर ली डील


बागपत,(उत्तर प्रदेश)। अपराधियों के खिलाफ सख्त ऐक्शन लेने के बजाए पुलिस उनसे पैसे लेकर मालखाने से माल देने की डील करने की साजिश रचने में जुटी है। बागपत पुलिस का ऐसा ही एक कारनामा सामने आया है। पुलिस ने महिला स्मगलर को मालखाने में रखा गांजा बेचने की डील कर ली। मोबाइल पर बातचीत का ऑडियो वायरल होने पर एसपी ने हेड मोहर्रिर को सस्पेंड कर दिया है। इसके साथ ही उसके खिलाफ विभागीय जांच शुरू हो गई है। दरअसल, थाना सिंघावली अहीर के हेड मोहर्रिर ने मालखाने में रखे तीन किलो गांजे को 21 हजार रुपए में बेचने का सौदा एक महिला स्मगलर से कर लिया था। वायरल ऑडियो के अनुसार, बातचीत करने वाले सिंघावली अहीर थाने का हेड मोहर्रिर सत्यवीर सिंह और दूसरी तरफ महिला स्मगलर है। दोनों के बीच 2 मिनट 21 सेकंड तक फोन पर बातचीत हुई है। महिला कह रही है कि उसके पास 15-20 दिन से माल खत्म पड़ा है। हेड मोहर्रिर भी कह रहा है कि उसे पैसों की जरूरत है। महिला स्मगलर दो किलो गांजा मांगती है, लेकिन हेड मोहर्रिर रुपयों की चाहत में उसे तीन किलो गांजा 21 हजार रुपये में देने के लिए तैयार हो जाता है। एसपी बागपत के मुताबिक ऑडियो 22 अक्टूबर का है, जो अब वायरल हुआ है। थाना प्रभारी निरीक्षक की रिपोर्ट के आधार पर हेड मोहर्रिर सत्यवीर सिंह को सस्पेंड कर विभागीय जांच शुरू करा दी है।
गौरतलब है कि आगरा में 25 लाख रुपये थाने के मालखाने से गायब हो गए थे। उसमें एक सफाईकर्मी को शक के आधार पर पुलिस ने उठाकर मारपीट की थी। उसकी मौत हो गई थी। मेरठ में भी मालखाने से सामान गायब होने का मामला सामने आ चुका है। अब बागपत में तो सीधे पुलिस वाला ही मालखाने के माल की डील क्रिमिनल महिला से कर रहा है।

Popular posts from this blog

उत्तर पूर्वी जिला पुलिस ने ऑपरेशन अंकुश के तहत छेनू गैंग के चार बदमाशों को किया गिरफ्तार

जीटीबी एंक्लेव थाने में तैनात दिल्ली पुलिस की महिला एसआई ने लगा ली फांसी, पुलिस ने बचाई जान

रोटरी क्लब इंदिरपुरम परिवार के पूर्व प्रधान सुशील चांडक को ज़ोन २० का बनाया गया असिस्टंट गवर्नर