लखीमपुर खीरी की घटना के बाद मेरठ में सपाइयों का प्रदर्शन, एएसपी पर फेंका पेट्रोल


मेरठ। लखीमपुर खीरी घटना की आग अब पूरे यूपी में फैल गई है। वेस्ट यूपी के मेरठ में सपाइयों ने अखिलेश यादव की गिरफ्तारी के बाद प्रदर्शन किया। मेरठ कमिश्नर मंडल के दफ्तर के बाहर से लेकर जिलाधिकारी दफ्तर तक जगह-जगह प्रदर्शन किया। सरकार के खिलाफ नारेबाजी करते हुए पुतले फूंके। इस बीच पुलिस और प्रदर्शनकारियों के बीच धक्का-मुक्की और झड़प भी हुई। पुलिस ने दर्जनों कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार किया है। इसमें एसपी के पूर्व कैबिनेट मंत्री शाहिद मंजूर, मौजूदा मेरठ शहर से विधायक रफीक अंसारी, पूर्व विधायक योगेश वर्मा, चर्चित नेता अतुल प्रधान समेत कई अन्य कार्यकर्ता भी शामिल हैं।
वहीं, कमिश्नर ऑफिस के बाहर पुलिस बल के साथ तैनात एएसपी कैंट सूरज राय ने प्रदर्शनकारियों से पुतला खींचने का प्रयास किया। इस बीच किसी समाजवादी के कार्यकर्ता ने एएसपी सूरज राय पर पेट्रोल छिड़क दिया।
लखनऊ से समाजवादी पार्टी की ओर से घोषणा होने के बाद यूपी के सभी जिलों में सपाइयों ने प्रदर्शन शुरू कर दिया। मेरठ में भी बड़ी संख्या में समाजवादी के कार्यकर्ता कमिश्नर ऑफिस और जिलाधिकारी के ऑफिस के बाहर प्रदर्शन करते नजर आए। समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने कमिश्नर ऑफिस के गेट पर चढ़कर जमकर बवाल काटा। इस बीच पुलिस कर्मियों को हल्का बल का प्रयोग करना पड़ा। प्रदर्शनकारियों को रोकने के लिए एडीएम सिटी, एसपी सिटी, एएसपी, एसडीएम, 3 सीओ, 10 थानों की फ़ोर्स और एक प्लाटून पीएसी मौजद रही।
प्रदर्शन के दौरान समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने 5 बार सरकार विरोधी पुतले फूंकने की कोशिश की। जिसमें से एक बार वह कामयाब भी हुए। एएसपी सूरज राय ने बताया कि प्रदर्शनकारियों को रोकने की कोशिश की जा रही थी। इसी बीच किसी ने पेट्रोल डाल दिया। प्रदर्शन के समय की तमाम वीडियो खंगाली जा रही है, जिसके बाद कानूनी कार्रवाई की जाएगी।