प्रेम प्रस्ताव को नामंजूर करते हुए छात्रा ने मारा थप्पड, प्रेमी ने साथियों के साथ मिलकर कर डाली हत्या


बुलंदशहर। यूपी के बुलंदशहर में हुई नाबालिग दलित छात्रा की हत्या का सनसनीखेज खुलासा कर पुलिस ने बुधवार को कर दिया है। ट्यूशन जाते समय दलित छात्रा की हत्या एकतरफा प्यार में की गई थी। छात्रा ने आरोपी के प्रेम प्रस्ताव को नामंजूर करते हुए उसे थप्पड़ जड़ दिया था। गुस्साए युवक ने अपने दो साथियों के साथ मिलकर छात्रा की हत्या कर दी और शव को सड़क किनारे खाई में फेंककर फरार हो गए।
खुर्जा कोतवाली देहात क्षेत्र के किररा गांव की एक छात्रा 30 सितंबर की दोपहर ट्यूशन के लिए घर से खुर्जा जा रही थी। छात्रा गांव से कुछ दूरी पर नेशनल हाईवे पर पहुंची थी। जिसके बाद उसका शव सड़क किनारे खाई में मिला था। बुलंदशहर एसएसपी संतोष कुमार सिंह ने बताया कि उस दिन गांव के ही एक नाबालिग ने छात्रा के सामने अपने प्यार का इजहार किया था। छात्रा ने विरोध करते हुए उसे थप्पड़ जड़ दिया। गुस्साए नाबालिग ने अपने साथियों की मदद से छात्रा की हत्या कर दी और शव को खाई में फेंककर फरार हो गया।
हत्या करने के बाद भी सुनील पवन और नाबालिग तीनों आरोपी ग्रामीणों के साथ मौजूद रहे। साक्ष्यों के आधार पर स्वाट टीम ने तीनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस ने आरोपियों की निशानदेही पर पत्थर और लाल रंग की शर्ट भी बरामद की है। आरोपियों ने पत्थर मारकर छात्रा की हत्या की थी।
एसएसपी संतोष कुमार सिंह के मुताबिक, मृतका और नाबालिग एक-दूसरे को जानते थे, लेकिन वह कुछ दिन पहले दिल्ली चला गया था। जब वह दिल्ली से लौटा तो छात्रा ने उससे बात करनी बंद कर दी। इसी को लेकर वह घटना वाले दिन छात्रा के सामने अपने प्रेम का प्रस्ताव रखने गया था, लेकिन छात्रा ने उसको थप्पड़ जड़ दिया।