औद्योगिक विकास की दृष्टि से जनपद गाजियाबाद महत्वपूर्ण जनपद : डीएम राकेश कुमार सिंह


गाजियाबाद ब्यूरो। औद्योगिक विकास से जुड़े हुए अधिकारियों को सख्त निर्देश देते हुए जिलाधिकारी राकेश कुमार सिंह ने कहा कि औद्योगिक विकास की दृष्टि से जनपद गाजियाबाद महत्वपूर्ण जनपद है। साथ ही उत्तर प्रदेश सरकार के माननीय मुख्यमंत्री जी के द्वारा भी गाजियाबाद के औद्योगिक विकास को बहुत ही गंभीरता के साथ लेकर उद्यमियों की समस्याओं का शासन एवं सरकार स्तर पर निराकरण किया जा रहा है। जिलाधिकारी ने आज कलेक्ट्रेट के महात्मा गांधी सभागार में उद्योग बंधु की समीक्षा बैठक करते हुए उद्यमियों की समस्याओं को बहुत ही गहनता के साथ समीक्षा की गई साथ ही उन्होंने मौके पर उपस्थित औद्योगिक विकास से जुड़े हुए सभी अधिकारियों को सख्त निर्देश दिए कि जनपद के औद्योगिक विकास में और अधिक गतिशीलता लाने के उद्देश्य से जनपद के उद्यमियों के सम्मुख आने वाली समस्याओं का तत्परता के साथ निराकरण सुनिश्चित किया जाए ताकि जनपद का औद्योगिक विकास और अधिक तेजी से आगे बढ़ सके। इस अवसर पर सर्वप्रथम बैठक में जिलाधिकारी द्वारा निवेश मित्र पोर्टल की समीक्षा की गई। समीक्षा में लंबित प्रकरणों पर जिलाधिकारी द्वारा तत्काल कार्यवाही करने के लिए निर्देशित किया गया एवं निर्देश दिए गए कि जिला स्तर पर कोई भी प्रकरण लंबित न रहे एवं शासन स्तर पर लंबित प्रकरणों पर निरंतर अनुश्रवण कराया जाए। साथ ही निवेश मित्र पोर्टल से संबंधित सभी विभागों को निर्देशित किया गया कि उक्त बैठक में विभागाध्यक्ष स्वयं प्रतिभाग करें, जो प्रकरणों के निस्तारण के लिए सक्षम है। बैठक में उपस्थित भूजल विभाग के प्रतिनिधि द्वारा अवगत कराया गया कि शासन द्वारा 16 प्रकरणों पर स्वीकृति प्रदान की गई। जिलाधिकारी द्वारा उक्त 16 प्रकरणों को तत्काल निस्तारित कराए जाने के निर्देश अवर अभियंता लघु सिंचाई विभाग गाजियाबाद को दिए गए। मुख्यमंत्री शिक्षुता प्रोत्साहन योजना के अंतर्गत शिशिक्षुओ को रोजगार दिए जाने के संबंध में योजना की समीक्षा करते हुए जिलाधिकारी द्वारा लक्ष्य के सापेक्ष प्रगति पर असंतोष व्यक्त किया गया एवं प्रधानाचार्य राजकीय औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान गाजियाबाद के बैठक में उपस्थित न होने पर स्पष्टीकरण प्राप्त किए जाने के निर्देश दिए गए एवं उनके प्रमुख सचिव को उक्त संदर्भ का एक पत्र प्रेषित किए जाने के निर्देश संयुक्त आयुक्त उद्योग को दिए गए तथा योजना की समीक्षा के लिए अलग से एक बैठक कराए जाने के निर्देश संयुक्त आयुक्त उद्योग को दिए गए। मुरादनगर पावर हाउस से 33/11 केवी फीडर भारत उद्योग तक आने वाली लाइन पर एनसीआरटीसी द्वारा कराए जा रहे हाई स्पीड मेट्रो निर्माण के कारण अत्यधिक ब्रेकडाउन एवं फाल्ट होने संबंधी समस्या विद्युत विभाग के अधिशासी अभियंता द्वारा अवगत कराया गया कि उक्त कार्य पूर्ण करा दिया गया है। जिलाधिकारी द्वारा शेष कार्य को पूर्ण कराते हुए उक्त प्रकरण को एजेंडा से निक्षेपित किए जाने का निर्णय लिया गया। मेरठ रोड पर एनसीआरटीसी द्वारा बनाए गए नाले को जगह-जगह अधूरा छोड़ दिए जाने संबंधी प्रकरण पर जिलाधिकारी द्वारा अपर नगर आयुक्त आर0एन0 पांडे को लोक निर्माण विभाग एवं एनसीआरटीसी तथा संयुक्त आयुक्त उद्योग बीरेंद्र कुमार के साथ संयुक्त स्थलीय निरीक्षण करते हुए आगामी उद्योग बंधु बैठक से पूर्व आख्या प्रस्तुत करने के निर्देश दिए गए। गाजियाबाद विकास प्राधिकरण से संबंधित इंद्रप्रस्थ कॉलोनी के भूखंडों की किस्तों पर ब्याज से संबंधित प्रकरणों पर बोर्ड बैठक में लिए गए निर्णय अनुसार ब्याज कम नहीं किया जा सकता। अतः उक्त प्रकरण को जिलाधिकारी द्वारा उक्त एजेंडा से निक्षेपित किए जाने का निर्णय लिया गया। इंद्रप्रस्थ योजना पॉकेट बी में उद्योग भूमि के नियोजित तलपट मानचित्र के अंतर्गत कुछ भूखंडों एवं सड़क की भूमि पर आने वाले निर्माण कार्यों में बाधक विभिन्न प्रकृति के वृक्षों का नियमानुसार कटान की अनुमति के संबंध में अधिशासी अभियंता, गाजियाबाद विकास प्राधिकरण द्वारा अवगत कराया गया कि वांछित शुल्क धनराशि एवं जमानत धनराशि आरटीजीएस के माध्यम से वन विभाग उपलब्ध करा दी गई है। बैठक में औद्योगिक संगठन के प्रतिनिधि मनोज कुमार द्वारा अवगत कराया गया कि वन विभाग द्वारा आगे की कार्यवाही नहीं की गई है। वन विभाग से बैठक में कोई प्रतिनिधि उपस्थित न होने पर जिलाधिकारी द्वारा स्पष्टीकरण प्राप्त करने के निर्देश दिए गए। विगत तीन-चार माह से नगर निगम  से संबंधित समस्याओं पर बैठक का आयोजन न होने के संबंध में औद्योगिक संगठनों के प्रतिनिधियों द्वारा जिलाधिकारी से नगर निगम की समस्याओं पर बैठक का आयोजन कराने का अनुरोध किया गया। जिलाधिकारी द्वारा तत्काल नगर आयुक्त से दूरभाष पर वार्ता करते हुए औद्योगिक संगठन के प्रतिनिधियों के साथ अलग से एक बैठक का आयोजन करने के निर्देश दिए गए। बैठक में उपस्थित आईआईए के चेयरमैन मनोज कुमार द्वारा साउथ साइड जीटी रोड औद्योगिक क्षेत्र में एक औद्योगिक इकाई में हुए भीषण अग्निकांड को समय रहते अग्निशमन विभाग के अधिकारियों द्वारा काबू पा लेने पर धन्यवाद ज्ञापित किया गया एवं गत उद्योग बंधु बैठक में एयू बैंक द्वारा प्रॉपर्टी के दस्तावेज रिलीज ने किए जाने संबंधी प्रकरण का त्वरित निस्तारण किए जाने पर संयुक्त आयुक्त उद्योग बीरेंद्र कुमार का धन्यवाद ज्ञापित किया गया। अंत में बैठक में उपस्थित सभी अधिकारियों एवं औद्योगिक संगठन के पदाधिकारियों को धन्यवाद देते हुए बैठक का समापन किया गया। इस अवसर पर अपर नगर आयुक्त नगर निगम आर0एन0 पांडे, क्षेत्राधिकारी पुलिस कवि नगर, क्षेत्रीय प्रबंधक यूपीसीडा, अधिशासी अधिकारी नगर पालिका परिषद लोनी, अधीक्षण अभियंता विद्युत नगरीय वितरण मंडल गाजियाबाद एवं उक्त के अतिरिक्त विभिन्न विभागों के अधिकारियों तथा औद्योगिक संगठन के पदाधिकारियों द्वारा प्रतिभाग किया गया।