नोएडा : ईद-मिलाद-उन-नबी के अवसर पर निकाले गए जुलूस में पाकिस्तान जिंदाबाद के लगे नारे, तीन गिरफ्तार


नोएडा ब्यूरो। सेक्टर-8 में जामा मस्जिद के पास मंगलवार को ईद-मिलाद-उन-नबी के अवसर पर निकाले गए जुलूस में पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे लगाने का मामला सामने आया है। बुधवार को इसके कई वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गए। इसके बाद बजरंग दल समेत कई संगठनों के लोगों ने कोतवाली सेक्टर-20 का घेराव किया और धरने पर बैठ गए। लोगों ने पाकिस्तान का झंडा भी लहराने का आरोप लगाया। पुलिस ने मामला दर्ज कर तीन आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है।
पुलिस के अनुसार, जुलूस में कुछ लोगों की ओर से पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे लगाने संबंधी वीडियो बुधवार को जब वायरल हुए तो बजरंग दल समेत अन्य संगठनों ने हंगामा शुरू कर दिया और कोतवाली सेक्टर-20 के बाहर जमा हो गए। इसके बाद आरोपियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग करते हुए लोग थाने के सामने धरने पर बैठ गए। पुलिस अधिकारियों ने समझाकर उन्हें लौटाया। जब विशेषज्ञों से परामर्श कर विश्लेषण किया गया तो नारे लगाया जाना प्रथमदृष्टया सही मिला। इसके बाद कोतवाली सेक्टर-20 में मामला दर्ज कर मोहम्मद जफर, समीर अली और अली राजा को गिरफ्तार कर लिया गया। तीनों आरोपियों से पुलिस पूछताछ कर अन्य लोगों के बारे में पता कर रही है।
चार से पांच वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुए हैं। इनमें 12 सेकेंड, 16 सेकेंड, 36 सेकेंड, एक मिनट आदि के वीडियो हैं। 12 और 16 सेकेंड वाले वीडियो में पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे सुनाई दे रहे हैं। हालांकि, पुलिस अधिकारी दिनभर कहते रहे कि वीडियो से छेड़छाड़ संभव है। जुलूस में पुलिस बल व अधिकारी मौजूद थे। वहीं, पाकिस्तान के झंडे लेकर चलने की बात को पुलिस ने खारिज किया है। पुलिस का कहना है कि वह हरे रंग का धर्म विशेष का झंडा था, न कि पाकिस्तान का। जुलूस में पत्ता-पत्ता, फूल-फूल, इस्लाम जिंदाबाद, हिंदुस्तान जिंदाबाद और ख्वाजा का हिंदुस्तान जिंदाबाद नारे लगे जबकि वीडियो में यह सुनाई पड़ रहा है कि बीच में कुछ लोगों ने पाकिस्तान जिंदाबाद के भी नारे लगाए।
दिनभर चला मंथन और ली गई विशेषज्ञों से राय
सुबह वीडियो वायरल होते ही कमिश्नरेट के तमाम अधिकारी इससे गलत बताते रहे, लेकिन पुलिस अधिकारी अपने स्तर पर जांच भी कर विशेषज्ञों से राय लेते रहे। दिनभर के मंथन और जांच के बाद देर शाम मामले में मामला दर्ज किया गया। सोशल मीडिया पर जुलूस के दौरान पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे लगाने के वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुए हैं। वीडियो के विश्लेषण करने और विशेषज्ञों से परामर्श के बाद प्रथमदृष्टया पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे लगाने की बात सही प्रतीत हो रही है। मामला दर्ज तीन आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है।