लम्बे इंतजार के बाद दिल्ली नागरिक सहकारी बैंक लिमिटेड का चुनाव हुआ संपन्न

 

राजीव गौड़,(दिल्ली ब्यूरो)। दिल्ली नागरिक सहकारी बैंक लिमिटेड का चुनाव न होने के कारण इसके हजारों सदस्यों को परेशानी हो रही थी। दिसंबर 2020 से खाताधारकों को न तो लोन मिल रहा था और न ही उनका अकाउंट ट्रांसफर हो रहा था। जिन खाताधारकों की कोरोना या किसी अन्य कारण से मृत्यु हो चुकी है, उनके उत्तराधिकारियों को बैंक में जमा उनके पैसे भी नहीं मिल रहे थे। खाताधारक की कोरोना से मौत होने पर बैंक की ओर से दी जाने वाली 10 हजार रुपये की मदद भी नहीं मिल पा रही थी। कोई अपना अकाउंट बंद भी नहीं करवा सकता। गरीबों को बेटियों की शादी के लिए भी लोन नहीं मिल पाया। इन सब कारणों से बैंक को भी नुकसान हो रहा था। हालांकिहर तीन साल में सहकारी बैंक के बोर्ड मेंबर्स का चुनाव होता हैं। इसमें एक चेयरमैन, एक वाइस चेयरमैन, दो महिला निदेशक, दो प्रोफेशनल (चार्टर्ड अकाउंटेंट व अधिवक्ता) व छह सदस्यों को चुना जाता है। अंतिम चुनाव वर्ष- 2017 में हुए थे। पिछले साल अक्टूबर में फिर से चुनाव होने थे लेकिन कोरोना के कारण यह टल गया था। फिर अप्रैल- 2021 तारीख दी गई। लेकिन कोरोना की दूसरी लहर के कारण वह भी टल गया।अक्टूबर से अब तक तीन बार रिटर्निंग आफिसर (आरओ) बदल चुके हैं लेकिन चुनाव कब होगा, इसका अभी पता नहीं था। वहीं, सहायक रजिस्ट्रार बैंकिंग (कोआपरेटिव सोसायटीज) गुलशन आहूजा ने बताया कि डीडीएमए के दिशानिर्देशों के कारण चुनाव सितंबर तक टाले गए थे। अक्टूबर में चुनाव करवा दिए जाएंगे। चुनाव की तैयारी बैंक व रिटर्निंग आफिसर को करनी होती है। रिटर्निंग आफिसर लाल सिंह ने बताया कि चुनाव कराने के लिए ग्राउंड फ्लोर या फर्स्ट फ्लोर पर कम से कम 30 कमरों का स्कूल चाहिए। एनडीएमसी सेक्रेटरी को पत्र लिखकर स्कूल की मांग की गई लेकिन स्कूल नहीं मिल पा रहा था जिस कारण चुनाव नहीं हो पा रहे। 

इसी के चलते आखिर कार 17.10.2021 को नवयुग स्कूल आर के आश्रम मार्ग में रविवार के दिन चुनाव कराया गया । जिसमे सभी कोरौना गाइडलाइंस को ध्यान में रखते हुए पुलिस एवं बैंक प्रशासन द्वारा सोशल डिस्टेंसिंग एवं सैनिटाइजेशन का इंतजाम किए गए।  चुनाव प्रक्रिया सुबह 9 से शाम 5 बजे तक सम्पन्न हुआ। जिसमें विजियेता लोगो की सूची में चेयरमैन पद पर प्रदीप कुमार शर्मा , वाइस चेयरमैन पद पर चमन लाल गुप्ता , महिला निदेशक नीलम खत्री,एवं नेहा शर्मा, निदेशक में अतुल भारद्वाज,विनय भारद्वाज,राजकुमार शर्मा एवं  ऋषिराज शर्मा ,प्रोफेशनल निदेशक पर अतुल शर्मा एवं सचिन शर्मा और इलेक्ट्रॉल कॉलेज एक श्री अजीत सिंह जी रहे।