एनसीबी के जोनल डायरेक्टर समीर वानखेड़े को बॉम्बे हाई कोर्ट ने दी राहत, गिरफ़्तारी से तीन दिन पहले देना होगा नोटिस


मुंबई ब्यूरो। बॉम्बे हाई कोर्ट ने नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो के जोनल डायरेक्टर समीर वानखेडे को गिरफ्तारी से राहत दी है। अदालत ने आदेश दिया है कि अब किसी भी एजेंसी को पहले 3 दिन का नोटिस समीर वानखेड़े को देना होगा। उसके बाद में ही उनकी गिरफ्तारी की जा सकेगी। आपको बता दें कि समीर वानखेड़े ने गुरुवार को बॉम्बे हाई कोर्ट का दरवाजा खटखटाया था। उन्हें इस बात की आशंका थी कि मुंबई पुलिस में उनके खिलाफ जो शिकायतें दर्ज की गई हैं। उनको लेकर मुंबई पुलिस उनकी गिरफ्तारी कर सकती है। महाराष्ट्र के कैबिनेट मंत्री नवाब मलिक ने समीर वानखेडे पर गंभीर आरोप लगाए हैं। मलिक ने समीर वानखेडे पर यह आरोप लगाया है कि वह फर्जी कार्रवाई करते हैं और फर्जी कार्रवाई के जरिए एक्सटॉर्शन का रैकेट चला रहे हैं।
मलिक ने कहा कि ड्रग्स के नाम पर समीर वानखेडे ने कई बॉलीवुड हस्तियों को जांच के नाम पर एनसीबी दफ्तर बुलाया और फिर बाद में उन्हें छोड़ दिया गया। इस इन मामलों में भी समीर वानखेडे ने जमकर पैसों की उगाही की है। यह उगाही तकरीबन एक हजार करोड रुपए की हो सकती है। मलिक ने यह भी कहा की समीर वानखेड़े कोरोना काल में मालदीव पैसों की उगाही के लिए ही गए थे। क्योंकि उस समय वहां पर बॉलीवुड की तमाम हस्तियां मौजूद थीं। इसके अलावा उन्होंने दुबई में जाकर भी बॉलीवुड हस्तियों से एक्सटॉर्शन किया है।
महाराष्ट्र के केबिनेट मंत्री नवाब मलिक ने फैशन टीवी इंडिया के एमडी काशिफ खान पर निशाना साधा है। मलिक ने कहा कि काशिफ खान पर देश में कई मामले दर्ज हैं। उन्होंने यह भी कहा कि काशिफ की दाढ़ी किसी को दिखाई नहीं दे रही है क्या? नवाब मलिक ने अपरोक्ष रूप से यह कहने की कोशिश की है कि, जिस दाढ़ी वाले का जिक्र बुधवार को मैंने किया था। काशिफ खान वही दाढ़ी वाले शख्स हैं।
दाढ़ी वाले शख्स को नवाब मलिक ने एक अंतरराष्ट्रीय ड्रग्स माफिया भी बताया था। मलिक ने यह भी कहा था कि काशिफ खान के साथ समीर वानखेड़े के संबंध हैं। इन्हीं संबंधों की वजह से समीर वानखेड़े ने काशिफ खान को गिरफ्तार नहीं किया और ना ही उनसे कोई पूछताछ की गई। नवाब मलिक ने दावा किया है कि क्रूज पर हुई रेव पार्टी को लेकर किसी भी प्रकार की इजाजत नहीं ली गई थी। आखिर नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो काशिफ खान पर कार्रवाई क्यों नहीं कर रहा?
नवाब मलिक ने समीर वानखेड़े पर यह आरोप भी लगाया था कि क्रूज पर चल रही पार्टी में अंतरराष्ट्रीय ड्रग्स किंग मौजूद था। उस पार्टी में उसकी माशूका भी गन के साथ मौजूद थी। मलिक ने कहा कि वह दाढ़ी वाला अंतरराष्ट्रीय ड्रग माफिया कभी तिहाड़ जेल में कैद था। लेकिन समीर वानखेड़े ने उस पर कोई कार्रवाई नहीं की और उसे जाने दिया। जबकि अन्य लोगों को गिरफ्तार किया गया।
मलिक ने कहा कि दाढ़ी वाला ड्रग्स माफिया अपनी महबूबा के साथ क्रूज पर नाच रहा था। इस मामले की सीसीटीवी नहीं दी गई है। यदि समीर वानखेड़े नहीं देते हैं तो हम वो सीसीटीवी मुहैया करवाएंगे। मलिक ने कहा कि नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो को यह बताना होगा कि आखिर वह दाढ़ी वाला व्यक्ति कौन है? किस देश का नागरिक है, उसके ऊपर देश में कितने मामले दर्ज हैं? अगर यह सब जांच का हिस्सा नहीं बनता है तो हमें लगेगा कि पूरा नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो ही भ्रष्ट है।
नवाब मलिक ने आरोप लगाते हुए कहा कि वानखेड़े का 'दाढ़ी वाला' दोस्त क्रूज पर मौजूद था। लेकिन उसे स्कैन नहीं किया गया। बस ट्रैप लगाकर गिरफ्तार लोगों को फंसाया गया। जो तस्वीर दिखाई गई वह एनसीबी दफ्तर की है। नवाब मलिक ने यह भी कहा कि समीर वानखेड़े को सैम डिसूजा के बारे में भी स्पष्टीकरण देना होगा।


Popular posts from this blog

उत्तर पूर्वी जिला पुलिस ने ऑपरेशन अंकुश के तहत छेनू गैंग के चार बदमाशों को किया गिरफ्तार

जीटीबी एंक्लेव थाने में तैनात दिल्ली पुलिस की महिला एसआई ने लगा ली फांसी, पुलिस ने बचाई जान

रोटरी क्लब इंदिरपुरम परिवार के पूर्व प्रधान सुशील चांडक को ज़ोन २० का बनाया गया असिस्टंट गवर्नर