दिल्ली पुलिस आयुक्त का आदेश : अब एसएचओ और इंस्पेक्टर हर पीसीआर कॉल पर जाएंगे मौके पर


राजीव गौड़,(दिल्ली ब्यूरो)। दिल्ली पुलिस के थानाध्यक्ष व पुलिस स्टेशनों में तैनात इंस्पेक्टर को तुरंत मौके पर पहुंचना होगा। अब उन्हें बताना होगा कि वह कितने समय में मौके पर पहुंच गए। अब थानाध्यक्षों को मौके पर पहुंचने का टाइम-लॉक (इंट्री) होगा। साथ ही थानाध्यक्ष व इंस्पेक्टर अब हर पीसीआर कॉल पर जाएंगे।
इसके अलावा अब सब-डिवीजन सहायक पुलिस आयुक्त(एसीपी) भी गंभीर अपराध की कॉल पर जाएंगे। दिल्ली पुलिस आयुक्त ने दिल्ली में अपराध को कम करने के लिए ये सख्त कदम उठाए हैं। जिला डीपीसी अब पुलिस आयुक्त के इन आदेशों के बारे में एसीपी, थानाध्यक्षों व इंस्पेक्टर को बता रहे हैं। दक्षिण-पश्चिमी जिला डीसीपी गौरव शर्मा ने मंगलवार की अपने जिले के अधिकारियों के साथ बैठकर पुलिस आयुक्त के आदेशों के बारे में जानकारी दी।  दिल्ली पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि देखने में ये आता है कि कई बार थानाध्यक्ष व इंस्पेक्टर पीसीआर कॉल पर नहीं जाते हैं। वह जूनियर पुलिस अधिकारियों को घटनास्थल पर भेज देते हैं। इस अधिकारी ने बताया कि अब पुलिस आयुक्त राकेश अस्थाना ने आदेश दिए हैं कि हर थानाध्यक्ष व पुलिस स्टेशन में तैनात इंस्पेक्टर हर पीसीआर कॉल पर जाएंगे। 
वह मौके पर पहुंचकर वायरलैस सैट पर मैसेज देकर बताएंगे कि कितने समय में मौके पर पहुंच गए हैं। इससे उनका कॉल पर पहुंचने का टाइम- लॉक हो जाएगा। ये भी आदेश दिए गए हैं कि अब थानाध्यक्ष जब भी समय मिलेगा वह ई-एफआईआर के घटनास्थल पर भी जाएंगे। ज्यादातर चोरी खासकर वाहन चोरी की घटनाओं को लेकर लोग ई-एफआईआर करते हैं, मगर कोई भी अधिकारी मौके पर नहीं पहुंचता था। 
इसके अलावा पुलिस आयुक्त ने आदेश दिए हैं कि सब- डिवीजन एसीपी भी अब कॉल पर जाएंगे। एसीपी सब-डिवीजन इलाके में होने वाली आग, हत्या व लूटपाट की पीसीआर कॉल पर जाएंगे। वह मौके पर पहुंचकर जूनियर पुलिस अधिकारियों को दिशानिर्देश देंगे। बताया जा रहा है कि पुलिस आयुक्त पीसीआर कॉल को कम करने के लिए ये आदेश दिए है। पुलिस आयुक्त दिल्ली में अपराध पर काबू पाने के लिए हर रोज नए कदम उठा रहे हैं।