ट्रेनों की गति बढ़ाने के लिए गाजियाबाद से दादरी तक बिछेगी चौथी रेलवे लाइन


गाजियाबाद ब्यूरो। गाजियाबाद से गुजरने वाली यात्री ट्रेनों और मालगाड़ियों की रफ्तार और तेज होगी। ट्रेनों की गति बढ़ाने और समय पर चलाने को गाजियाबाद से दादरी के बीच नई रेलवे लाइन (ट्रैक) बिछाई जाएगी। गाजियाबाद स्टेशन से चिपियाना और फिर दादरी तक करीब छह किमी की लाइन का काम तकनीकी कारणों में उलझा हुआ है। जबकि दादरी से प्रयागराज तक चौथे ट्रैक को बिछाने का अधिकांश काम पूरा हो चुका है।
नई लाइन से निर्बाध दौड़ेंगी ट्रेनें व मालगाड़ी, उत्तर रेलवे जीएम आशुतोष गंगल ने दिए निर्देश
दिक्कतों को दूर कर नई लाइन बिछाने को उत्तर रेलवे महाप्रबंधक आशुतोष गंगल ने रेलवे अधिकारियों को जल्द फिजिबिलिटी रिपोर्ट तैयार कर डिटेल प्रोजेक्ट रिपोर्ट पर काम शुरू करने के आदेश दिए हैं। गाजियाबाद स्टेशन से चिपियाना और फिर दादरी तक करीब छह किमी की लाइन का काम तकनीकी कारणों में उलझा हुआ है। जबकि दादरी से प्रयागराज तक चौथे ट्रैक को बिछाने का अधिकांश काम पूरा हो चुका है।
नई रेलवे लाइन का डेढ़ साल में पूरा होगा काम
आशुतोष गंगल ने बताया कि गाजियाबाद से दादरी तक नई रेलवे लाइन को बिछाने का काम डेढ़ साल में पूरा कर लिया जाएगा। वर्तमान में गाजियाबाद से दादरी जाने को अभी एक ट्रैक और दादरी से गाजियाबाद तक आने को दो लाइनें हैं। ऐसे दिल्ली-हावड़ा रूट पर दादरी जाने वाली ट्रेनों और मालगाड़ियों को कई बार आने वाली दूसरी लाइनों से निकालना पड़ता है। ऐसे में कई ट्रेनों और मालगाड़ियों को रोके जाने से उनकी रफ्तार धीमी पड़ जाती है। नए ट्रैक का निर्माण होने से अप और डाउन दोनों लाइनों पर ट्रेनें निर्बाध बाधा के दौड़ सकेंगी। रेलवे अधिकारियों की मानें तो गाजियाबाद से चिपियाना के बीच नई लाइन बिछाने से पहले बिजलीघर और मुरादाबाद लाइन को भी शिफ्ट करना होगा। फिजिबिलिटी रिपोर्ट तैयार होने के बाद लाइन व बिजलीघर को शिफ्ट करने का खाका तैयार हो जाएगा।
इलेक्ट्रिक लोको शेड में 300वें इंजन का जीएम ने किया लोकार्पण 
जीएम ने विद्युत लोको शेड का निरीक्षण करने के साथ ही 300वें रेल इंजन का लोकार्पण के साथ लोको तैयार करने के लिए दो टेस्टिंग यूनिट का उद्घाटन किया। नवीन तकनीकी और हेड ऑन जेनरेशन पर तैयार लोको की गति 140 किमी प्रति घंटा है। इंजन के लोकार्पण के साथ ही जीएम ने वरिष्ठ मंडल विद्युत अभियंता मनीष त्रिपाठी व उनकी टीम को बधाई दी। वार्षिक निरीक्षण के दौरान मंडल रेल प्रबंधक डिंपी गर्ग, अपर मंडल रेल प्रबंधक एके यादव, आरपीएफ वरिष्ठ मंडल सुरक्षा आयुक्त अपूर्व अग्निहोत्री, वरिष्ठ पीआरओ आरके राणा, सहायक सुरक्षा आयुक्त एनएम वशिष्ठ, स्टेशन अधीक्षक कुलदीप त्यागी, मुख्य स्वास्थ्य निरीक्षक जितेंद्र दुबे सहित तमाम अधिकारी मौजूद रहे।


Popular posts from this blog

उत्तर पूर्वी जिला पुलिस ने ऑपरेशन अंकुश के तहत छेनू गैंग के चार बदमाशों को किया गिरफ्तार

जीटीबी एंक्लेव थाने में तैनात दिल्ली पुलिस की महिला एसआई ने लगा ली फांसी, पुलिस ने बचाई जान

रोटरी क्लब इंदिरपुरम परिवार के पूर्व प्रधान सुशील चांडक को ज़ोन २० का बनाया गया असिस्टंट गवर्नर