कोलकाता में चॉकलेट से बनी दुर्गा की मूर्ति, दूध में होगा विसर्जन, फिर गरीब बच्चों में बांटा जाएगा मिल्कशेक


कोलकाता। कोलकाता की एक मशहूर बेकरी श्रंखला ने 25 किलोग्राम चॉकलेट की दुर्गा माता की मूर्ति बनाई है, जिसका शुक्रवार को विजयादशमी के बाद दूध में विसर्जन किया जाएगा और फिर उससे बने 'मिल्कशेक' को वंचित बच्चों में बांटा जाएगा। बेकरी के एक प्रवक्ता ने बताया कि बेल्जियम चॉकलेट से बनी चार फुट ऊंची देवी दुर्गा की हाथ से बनी मूर्ति ने पूजा के दिनों में पार्क स्ट्रीट में बने उनके मंडप में लोगों को काफी आकर्षित किया।
उन्होंने बताया कि उत्तरी कोलकाता में कुम्हारों के केन्द्र कुम्हारटोली में जाकर काफी जानकारी बटोरने के बाद शेफ विकास कुमार और उनकी टीम ने एक सप्ताह से अधिक समय में इसे तैयार किया। टीम ने 'कोको बटर' का इस्तेमाल उसका आधार ठोस बनाने और मूर्ति पर से दरारें छुपाने के लिए किया। उन्होंने कहा, 'विजयादशमी के बाद मूर्ति का दूध में विसर्जन किया जाएगा और उससे बने 'मिल्कशेक' को मध्य कोलकाता के वंचित बच्चो में बांटा जाएगा। यह पहल पश्चिम बंगाल के सबसे बड़े त्योहार में बेकरी का एक योगदान है।'