थाना कविनगर द्वारा चोरी करने वाले अंतर्राज्यीय गैंग का सरगना इरफान उर्फ उजाले गिरफ्तार


गाजियाबाद ब्यूरो। कविनगर थाना क्षेत्र के कविनगर डी ब्लाक में चार सितंबर की सुबह कारोबारी के मकान में हुई एक करोड़ की चोरी के मुख्य आरोपित इरफान उर्फ उजाले को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस ने आरोपित के पास से चोरी किए गए एक करोड़ कीमत से अधिक के सोने व हीरे के जेवर बरामद किए हैं। पकड़ा गया आरोपित जगुआर, मर्सीडीज, स्कार्पियो जैसी महंगी कारों से चलकर रेकी करने के बाद चोरी की वारदात को अंजाम देता है। पूर्व में इसके 11 साथियों को पुलिस गिरफ्तार कर चुकी है, घटना के बाद से यह फरार चल रहा था। इरफान देश भर में बड़ी कोठियों व बंगलों में घुसकर सैकड़ों बड़ी चोरी की वारदात को अंजाम दे चुका है। उसके खिलाफ विभिन्न प्रदेशों में चोरी के 25 मामले दर्ज हैं।
एसपी सिटी प्रथम निपुण अग्रवाल ने प्रेसवार्ता में बताया कि आरोपित बिहार के सीतामढ़ी निवासी इरफान उर्फ उजाले है। आरोपित ने उत्तर प्रदेश सरकार के राज्यमंत्री अतुल गर्ग के पड़ोसी एवं लोहा कारोबारी कपिल गर्ग की कोठी से एक करोड़ कीमत के जेवर चोरी किए थे। इरफान के खिलाफ दिल्ली, उत्तर प्रदेश, पंजाब, गोवा, तेलंगाना और बिहार समेत देश के विभिन्न राज्यों में चोरी के मामले दर्ज हैं। पूर्व में वह दिल्ली और गोवा से गिरफ्तार हो चुका है। पूछताछ में उसने बताया कि वह पिछले 10 सालों से चोरी की घटनाओं को अंजाम दे रहा है। विभिन्न प्रदेशों और जिलों में उसकी 16 कथित पत्नियों की बात जांच में सामने आई है। इसमें उसकी असल पत्नी व गर्लफ्रेंड को पुलिस पूर्व में गिरफ्तार कर चुकी है। 
एसपी सिटी ने बताया कि इरफान नंगे पैर चोरी की वारदात को अंजाम देता है। वह दीवार पर नंगे पैर चढ़कर कोठियों में घुस जाता है और चोरी करता है। वह कभी भी मेनगेट से नहीं जाता बल्कि पिछली दीवार से चढ़कर चोरी करता है। हालांकि चोरी से पहले व बाद में वह चालक के साथ चलता है। चोरी के दौरान वह अपने साथ पेचकस और कटर लेकर चलता है। पुलिस को उसने बताया कि कारोबारी की कोठी में भी वह पीछे के रास्ते से ही अकेले घुसा था। कविनगर थाना प्रभारी अब्दुर्र रहमान सिद्दीकी ने बताया कि इरफान बिहार के सीतामढ़ी में गरीब लड़कियों की शादी कराता है। पूछताछ में इरफान ने बताया कि वह बड़ी कोठियों में चोरी के बाद इसका अधिकांश पैसा गरीबों में बांटता है। इरफान ने चोरी के पैसे से करीब दर्जन भर गरीब लड़कियों की शादी कराने और गांव में नाली, खडंजा बनवाने की बात कबूली है। जो भी उसके दर पर आता है वह उसकी मदद जरुर करता है।
आरोपित इरफान उर्फ उजाले ने पूछताछ में बताया कि उसकी पत्नी गुलशन परवीन सीतामढ़ी बिहार में जिला पंचायत सदस्य का चुनाव लड़ रही है। क्षेत्र के लोगों की मांग पर ही उसने अपनी पत्नी को चुनावी मैदान में उतारा है। पुलिस का कहना है कि गुलशन मतदाताओं से अपने लिए वोट की भीख मांग रही है। वह कह रही है कि उनकी खातिर ही वह जेल गई और उसके पति इरफान भी उन्हीं लोगों की मदद करने के लिए देश भर में चोरी करता है।
एसपी सिटी निपुण अग्रवाल ने बताया कि उन्होंने इरफान से पूछताछ की तो उसके चेहरे पर डर नाम की चीज नहीं दिखाई दी। इरफान ने बताया कि वह दिल्ली में एक जज और गोवा में राज्यपाल के पड़ोसी के यहां भी बड़ी चोरी कर चुका है। इरफान ने कहा कि वह आजतक भी किसी वारदात में रंगे-हाथ नहीं पकड़ा गया। वारदात के दौरान न तो किसी कोठी के गार्ड ने उसे पकड़ा और न ही कोठियों में पलने वाले कुत्तों ने उसपर हमला किया। इरफान ने एसपी सिटी के सामने दावा किया वह किसी भी कोठी में कोई सामान रख दें, उस सामान को वह आसानी से चोरी कर लेगा। एसपी सिटी का कहना है कि आरोपी के खिलाफ गैंगस्टर एक्ट के तहत कार्यवाही की जाएगी।

Popular posts from this blog

उत्तर पूर्वी जिला पुलिस ने ऑपरेशन अंकुश के तहत छेनू गैंग के चार बदमाशों को किया गिरफ्तार

जीटीबी एंक्लेव थाने में तैनात दिल्ली पुलिस की महिला एसआई ने लगा ली फांसी, पुलिस ने बचाई जान

रोटरी क्लब इंदिरपुरम परिवार के पूर्व प्रधान सुशील चांडक को ज़ोन २० का बनाया गया असिस्टंट गवर्नर