वाराणसी के आदर्श पुलिस लाइन के बैरक में हेड कांस्टेबल ने खुद को मारी गोली, हुई मौत


वाराणसी,(उत्तर प्रदेश)। उत्तर प्रदेश के वाराणसी के आदर्श पुलिस बैरक में रविवार को एक हेड कॉन्स्टेबल ने खुद को गोली मारकर आत्महत्या कर ली जिससे हेड कॉन्स्टेबल की मौके पर ही मौत हो गई। जानकारी अनुसार हेड कॉन्स्टेबल ने कार्बाइन से खुद को कई गोली मारी जिनमें चार गोली उनके शरीर से आरपार ही हो गई। बताया जा रहा है कि हेड कॉन्स्टेबल अनिल राय बरेली के कोतवाली निवासी थे जो कि वाराणसी में ग्रामीण पुलिस मे तैनात थे। हैरानी की बात है कि कुछ दिनों पहले ही 22 सितंबर की इसी आदर्श पुलिस बैरक में एक सिपाही ने भी आत्महत्या कर ली थी। रविवार साढ़े तीन बजे प्रथम तल के हाल में हेड कांस्टेबल अनिल राय ने अपने कार्बाइन से खुद को कई गोली मारकर आत्महत्या कर ली। अचानक गोलियों की तड़ातड़ाहट से बैरक में अफरा-तफरी मच गई। साथी पुलिसकर्मी मौके पर पहुंचे तो अनिल राय मृत पड़े थे। बताया जा रहा है उनकी ड्यूटी बिहार की उप मुख्यमंत्री के स्कॉर्ट में लगी थी। दोपहर 12:30 बजे ड्यूटी कर बैरक आ गए थे जिसके बाद अपराह्न में कार्बाइन से खुद को गोली मार ली। कार्बाइन सुरक्षा ड्यूटी के लिए मिला था, जिसे अनिल राय ने जमा नहीं किया था। 
कुछ दिनों पहले भी सिपाही ने की थी आत्महत्या
उत्तर प्रदेश के वाराणसी पुलिस लाइन में ही 22 सितंबर को एक सिपाही की मौत का मामला सामने आया था जहां पुलिस लाइन के बैरक में सिपाही ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली थी। वहीं हेड कांस्टेबल अनिल राय के पेट में एक ही जगह पांच गोली लगी है। वह यूपी के आर्म्स फोर्स में तैनात थे, सात अगस्त को ही जौनपुर से स्थानांतरित होकर ग्रामीण पुलिस में जॉइन किया था। घटना के बाद मौके पर अपर पुलिस आयुक्त अपराध एवं मुख्यालय सुभाषचंद्र दुबे, डीसीपी वरुणा विक्रांत वीर, एसपी ग्रामीण अमित वर्मा पहुंचे। हेड कांस्टेबल अनिल राय के दो बेटे हैं। परिवार को सूचना दे दी गई है। घटना से कोई सुसाइड नोट नहीं मिला है। पुलिस अधिकारियों ने बताया कि जांच के बाद स्पष्ट होगा कि सुसाइड है या एक्सीडेंट हुआ है।