दिल्ली के नजफगढ़ में दिल दहला देने वाली वारदात, दिनदहाड़े मां-बेटी को मारी गोली, मां की मौत


दिल्ली ब्यूरो। नजफगढ़ के राम बाजार में सुबह सवेरे एक दुकान के अंदर एक शख्स ने मां और बेटी को गोली मार दी गई। इस वारदात में बुजुर्ग मां की मौत हो गई है। बेटी का इलाज चल रहा है। पुलिस टीम सूचना मिलते ही मौके पर पहुंची और मामले की जांच शुरू कर दी गई है। जानकारी के मुताबिक गोली चलाने का वाला शख्स मां-बेटी का रिश्तेदार हैं। पुलिस अधिकारी के अनुसार जिस दुकान में गोली चली वह जूते चप्पल की एक दुकान है। पुलिस को मंगलवार सुबह 9.55 बजे घटना की जानकारी मिली। जानकारी मिलते ही पुलिस टीम मौके पर पहुंची। पुलिस के अनुसार बुजुर्ग महिला कैलाश (62) और उनकी बेटी वंदना (31) को गोली मारी गई है। गोली चलाने के पीछे प्रॉपर्टी और पैसों के लेने देन को वजह बताया जा रहा है। बुजुर्ग महिला को चिकित्सकों ने मृत घोषित कर दिया जबकि बेटी को हाथ पर गोली लगी है। उसका इलाज चल रहा है। पुलिस और क्राइम की टीमें वारदात स्थल से सबूतों को एकत्रित कर आरोपी की तलाश में जुटे हैं।
पुलिस सूत्रों के अनुसार आरोपी और पीड़ित परिवार का प्रॉपर्टी पर विवाद चल रहा था। इसके बाद आरोपी ने पीड़ित परिवार से दो लाख रुपये उधार भी लिए हुए थे। पीड़ित मां बेटी आरोपी से कई बार पैसे वापस मांग चुकी थी। इस बात पर दोनों की कई बार कहासुनी हो चुकी थी। नजफगढ़ व आसपास के एरिया में जिस तरह से गोली चलने की वारदातें बढ़ रही हैं व्यापारियों में दशहत बढ़ रही है। राजीव गुलाटी मां बेटी का कजन बताया जा रहा है। जूता चप्पल की दुकान वंदना की थी। वंदना मंगलवार सुबह अपनी मां कैलाश के साथ दुकान में मौजूद थी। पुलिस के अनुसार तभी वहां राजीव गुलाटी आया और दुकान के अंदर जाकर उसने दोनों को मारने के इरादे से चार से पांच गोलियां दोनों पर चला दी।