मेट्रो मुसाफिरों के मोबाइल पलक झपकते करते थे पार, दो युवक रंगे हाथों गिरफ्तार


दिल्ली ब्यूरो। मेट्रो की ब्लूलाइन पर सफर कर रहे यात्रियों के मोबाइल चुराने की दो अलग-अलग वारदात को अंजाम देने के आरोपी दो युवकों को मेट्रो पुलिस ने रंगे हाथों गिरफ्तार किया है। दोनों वारदात आनंद विहार से यमुना डिपो के बीच मेट्रो स्टेशन के बीच हुई थीं।
डीसीपी मेट्रो जितेंद्र मणि के मुताबिक, सोमवार को आनंद विहार मेट्रो स्टेशन पर पट्रोलिंग कर रही यमुना डिपो पुलिस स्टेशन की टीम ने मोबाइल चोरी के आरोप में एक युवक को रंगे हाथों पकड़ा। उसकी पहचान नंद नगरी के सुंदर नगरी इलाके में रहने वाले किशन कुमार (21) के रूप में हुई। उसके पास से चोरी के दो मोबाइल भी बरामद हुए। इनमें से एक मोबाइल उस शख्स का था, जिनका मोबाइल आनंद विहार स्टेशन पर मेट्रो में सवार होते वक्त चोरी हो गया। शक होने पर उन्होंने अचानक ट्रेन से उतरकर जा रहे एक युवक की तरफ इशारा करके तुरंत शोर मचाया। यह देखकर आरोपी मौके से फरार होने की कोशिश करने लगा, लेकिन मौके पर मौजूद पट्रोलिंग कर रहे पुलिसवालों ने अन्य यात्रियों की मदद से उसे मौके पर ही रंगे हाथों धर दबोचा। उसके पास से बरामद हुआ दूसरा मोबाइल भी चोरी का निकला, जिसकी चोरी के बारे में ई-एफआईआर यमुना डिपो थाने में ही दर्ज थी।
एक अन्य मामले में पुलिस ने सुंदर नगरी के ही रहने वाले बाबू उर्फ हुसैन मियां (22) को कड़कड़डूमा मेट्रो स्टेशन से ही रंगे हाथों गिरफ्तार किया। उसकी गिरफ्तारी से मेट्रो में हुई चोरियों के 8 केस सॉल्व हुए। वह पहले से 6 आपराधिक मामलों में भी शामिल रहा था। डीसीपी ने बताया कि अमरोहा के रहने वाले एसएसबी के एक सिपाही आनंद विहार से मेट्रो लेकर कड़कड़डूमा स्थित शांति मुकुंद अस्पताल जा रहे थे। स्टेशन पर उतरते वक्त एक युवक ने उनका मोबाइल चुरा लिया और फरार होने की कोशिश करने लगा, लेकिन सिपाही ने शोर मचा दिया, जिसके बाद आरोपी को मौके पर ही रंगे हाथों पकड़ लिया गया।