काशी में होने जा रहा है 14 दिसंबर को महापौर सम्मेलन


वाराणसी,(उत्तर प्रदेश)। श्रीकाशी विश्वनाथ मंदिर में विस्तारीकरण व सुंदरीकरण होने के बाद आमजन को समर्पित करने के बाद बनारस में महापौर का सम्मेलन होगा। महापौर सम्मेलन की तारीख सुनिश्चित कर दी गई है। आपको बता दे, 14 दिसंबर को रुद्राक्ष सम्मेलन केंद्र में इस सम्मेलन का आयोजन किया जाएगा। जिसमे  देश भर से करीब दो सौ महापौर शामिल होंगे जो अपने- अपने शहरों में हेरिटेज को लेकर हुए कार्यों पर व्याख्यान करेंगे। इसे संपन्न कराने के संबंध में अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश कुमार अवस्थी द्वारा लिखा गया पत्र जिला प्रशासन को मिल गया है। इसके साथ ही उन्होंने यह भी अवगत कराया है कि सम्मेलन को सफल बनाने के लिए केंद्रीय शहरी विकास एवं आवासन मंत्रालय से भी सहयोग के लिए अपेक्षा की गई है और इसके साथ ही निर्देशित किया है कि 14 दिसंबर को निर्धारित कार्यक्रम को व्यापक रूप से सफल बनाने के लिए अपने विभाग से संबंधित कार्य को सबसे पहले प्राथमिकता दी जाए।
इस आधार पर सुरक्षित वातावरण में महापौरों का सम्मेलन संपन्न कराने के लिए कार्ययोजना तैयार करा लें जिसे 23 नंवबर की दोपहर तक शासन को उपलब्ध कराना सुनिश्चित कराएं। अपर मुख्य सचिव गृह के निर्देश के क्रम में नगर आयुक्त प्रणय सिंह ने सोमवार को कैंप कार्यालय में मातहतों के साथ बैठक की। उन्होंने अफसरों से बातचीत में उनको  बताया कि 13 दिसंबर से ही महापौरों का  हमारे शहर बनारस में प्रस्थान होना प्रारंभ हो जाएगा। अधिकतर महापौर श्रीकाशी विश्वनाथ धाम लोकार्पण समारोह में ही शामिल होंगे। इसके दूसरे दिन 14 दिसंबर को महापौर सम्मेलन होगा। इसके लिए रुद्राक्ष सम्मेलन केंद्र को आरक्षित कर दिया गया है। 
दोपहर तीन से शाम पांच बजे तक यह सेमिनार चलेगा। उन्होंने महापौरों के ठहरने, खाने-पीने से लेकर सारी व्यवस्थाए काशी व आसपास के पर्यटन स्थलों का भ्रमण कराने की व्यवस्था करने के लिए अफसरों को नामित किया है।इसके साथ ही सम्मेलन से पहले नगर में विशेष सफाई अभियान चलाने के लिए कहा गया है। लाइटिंग व्यवस्था दुरुस्त करने के लिए भी आदेशित किया। यहां बता दें कि भव्य काशी, दिव्य काशी, चलो काशी अभियान के तहत जो महापौरों के सम्मेलन को लेकर प्रारंभिक कार्यक्रम बनाया गया था उसकी तिथि पहले 16 दिसंबर सुनिश्चित की गई थी लेकिन 18 नवंबर को लखनऊ में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की अध्यक्षता में हुई बैठक में इस तिथि को बदल कर 14 दिसंबर कर दी गई है।

Popular posts from this blog

उत्तर पूर्वी जिला पुलिस ने ऑपरेशन अंकुश के तहत छेनू गैंग के चार बदमाशों को किया गिरफ्तार

जीटीबी एंक्लेव थाने में तैनात दिल्ली पुलिस की महिला एसआई ने लगा ली फांसी, पुलिस ने बचाई जान

रोटरी क्लब इंदिरपुरम परिवार के पूर्व प्रधान सुशील चांडक को ज़ोन २० का बनाया गया असिस्टंट गवर्नर