मॉल में दुकान का झांसा देकर 30 लोगों से की 12 करोड़ की ठगी, डायरेक्टर दंपती हुए गिरफ्तार


दिल्ली ब्यूरो। दुकान देने का झांसा देकर करोड़ों रुपये की ठगी के आरोप में एक कंपनी के डायरेक्टर दंपती को गिरफ्तार किया गया है। इनकी पहचान ग्रेटर नोएडा के परी चौक स्थित जेपी ग्रीन निवासी रीता दीक्षित और विजय कांत दीक्षित के रूप में हुई है। आर्थिक अपराध शाखा का दावा है कि आरोपियों ने 30 लोगों से 12 करोड़ रुपये की ठगी की है। आर्थिक अपराध शाखा के अतिरिक्त पुलिस आयुक्त आर. के. सिंह ने बताया कि दोनों जेसी वर्ल्ड हॉस्पिटैलिटी प्राइवेट लिमिटेड के डायरेक्टर थे। धीरेंद्र नाथ समेत अन्य पीड़ितों ने 2020 में इनके खिलाफ धोखाधड़ी की शिकायत की थी। उन्होंने बताया कि कंपनी के वर्ल्ड मॉल प्रोजेक्ट में दो शॉप बुक की थी, जिसकी शुरुआत 2014 में की थी। इसके तहत जेपी ग्रींस विश टाउन सेक्टर-128 नोएडा में दुकानें दी जानी थी। करीब पौने दो करोड़ से ज्यादा की रकम कंपनी को कई किस्तों में दी। कंपनी ने अलॉटमेंट लेटर देने के 30 महीने के भीतर दुकानों का कब्जा दिए जाने का दावा किया था। डेढ़ साल से वहां कोई काम नहीं हो रहा था। इस मामले में डायरेक्टर्स से बात की गई, तो वो टालमटोल करते रहे।
ईओडब्ल्यू को जांच में पता चला कि कंपनी ने 2015 में नोएडा प्राधिकरण से बिल्डिंग प्लान की मंजूरी के लिए आवेदन किया था। कुछ आपत्तियों के साथ उसे कंपनी को वापस कर दिया गया था और प्राधिकरण ने कुछ दस्तावेज उपलब्ध कराने के निर्देश दिए थे। तय अवधि के भीतर कंपनी के जवाब नहीं देने पर इसे खारिज कर दिया गया। जांच में पता चला कि दंपती कंपनी के प्रमोटर, डायरेक्टर और शेयरधारक हैं। पुलिस टीम ने सोमवार को दंपती को गिरफ्तार कर लिया।

Popular posts from this blog

उत्तर पूर्वी जिला पुलिस ने ऑपरेशन अंकुश के तहत छेनू गैंग के चार बदमाशों को किया गिरफ्तार

जीटीबी एंक्लेव थाने में तैनात दिल्ली पुलिस की महिला एसआई ने लगा ली फांसी, पुलिस ने बचाई जान

रोटरी क्लब इंदिरपुरम परिवार के पूर्व प्रधान सुशील चांडक को ज़ोन २० का बनाया गया असिस्टंट गवर्नर