वृंदावन के गिरिधर धाम आश्रम में फूट कोरोना बम, वृंदावन घूमने आईं 5 विदेशी महिलाएं कोरोना पॉजिटिव


मथुरा,(उत्तर प्रदेश)। मथुरा जिले के वृंदावन में कोरोना बम फूटा है। यहां एक आश्रम में रह रहीं पांच और विदेशी महिलाओं के कोरोना वायरस से संक्रमित होने की पुष्टि हुई है। वृंदावन में इससे पहले कोविड-19 के चार मामले आए थे। इस प्रकार इस इलाके में नौ लोग अब तक कोरोना संक्रमित हो चुके हैं। मामले सामने आने के बाद से प्रशासन भी हरकत में आया है। वहीं, विदेशी पर्यटकों में कोरोना संक्रमण का मामला आने के बाद ओमीक्रॉन वेरिएंट की भी जांच शुरू कर दी गई है। जिला नियंत्रण कक्ष के प्रभारी डॉ. भूदेव प्रसाद सिंह ने बताया कि वृंदावन के गिरिधर धाम आश्रम में एक-एक कर चार मामले संक्रमण के आए थे। सोमवार को यहां पांच और लोगों के संक्रमित होने की पुष्टि हुई। उन्होंने बताया कि आश्रम को पहले ही निषिद्ध क्षेत्र घोषित कर दिया गया था। अब संक्रमित विदेशी नागरिकों को आश्रम में ही आइसोलेशन में रखा गया है। आश्रम से बाहर संक्रमण के प्रसार को रोकने के लिए तमाम उपाय किए जा रहे हैं।
जिला नियंत्रण कक्ष के प्रभारी ने बताया कि वृंदावन में शनिवार को लिथुआनिया की रहने वाली 30 वर्षीय महिला संक्रमित पाई गई थी। इसके बाद रविवार को स्विट्जरलैंड की महिला व स्पेन का एक पुरुष संक्रमित पाया गया। सोमवार सुबह ऑस्ट्रियाई सैलानी की पॉजिटिव रिपोर्ट मिली और शाम होते-होते पांच अन्य के कोरोना वायरस के चपेट में आने की पुष्टि हुई। विदेशी सैलानियों में कोरोना संक्रमण का मामला आने के बाद उनके नमूनों की जांच शुरू कर दी गई है। डॉ. भूदेव प्रसाद सिंह ने कहा कि स्वास्थ्य विभाग जांच कर रहा है कि इनमें से कोई वायरस के ओमीक्रोन वेरिएंट से संक्रमित तो नहीं है। इसलिए उनके नमूने जांच के लिए लखनऊ भेजे गए हैं। मथुरा की मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. रचना गुप्ता ने बताया कि संक्रमित विदेशी करीब दो सप्ताह पहले शीतल छाया, गिरधर आश्रम वृंदावन में पर्यटन वीजा पर आए थे।


Popular posts from this blog

उत्तर पूर्वी जिला पुलिस ने ऑपरेशन अंकुश के तहत छेनू गैंग के चार बदमाशों को किया गिरफ्तार

जीटीबी एंक्लेव थाने में तैनात दिल्ली पुलिस की महिला एसआई ने लगा ली फांसी, पुलिस ने बचाई जान

रोटरी क्लब इंदिरपुरम परिवार के पूर्व प्रधान सुशील चांडक को ज़ोन २० का बनाया गया असिस्टंट गवर्नर