नोएडा के शोरूम में 80 लाख की चोरी, फास्टैग से लगा चोरी करने वालों का सुराग


नोएडा ब्यूरो। ग्रेटर नोएडा के सूरजपुर कस्बे में दिवाली की रात मोबाइल शोरूम में हुई 80 लाख से ज्यादा की चोरी करने वालों का पता उनकी कार पर लगे फास्टैग ने दे दिया। पुलिस ने खुलासा करते हुए मंगलवार को पांच युवकों को गिरफ्तार किया, जबकि दो फरार हैं। इनके पास से करीब 30 लाख 17 हजार रुपये के मोबाइल बरामद किए हैं। अधिकारियों ने कहा कि घटना का खुलासा करने के लिए 65 पुलिसकर्मियों को लगाया था।
जानकारी के अनुसार, सूरजपुर स्थित सैफी मार्केट में एक मोबाइल शोरूम से 4 नवंबर की देर रात करोड़ों की चोरी का मामला सामने आया था। अडिशनल डीसीपी इलामारन ने बताया कि पीड़ित की तरफ से 6 लाख रुपये नगद और 600 से अधिक मोबाइल चोरी होने की सूचना दी गई थी।
हालांकि, बाद में चोरी हुए मोबाइल की संख्या 364 बताई गई, तभी से पुलिस मामले की जांच में जुटी थी। उन्होंने बताया कि वारदात के वक्त मौके पर सीसीटीवी फुटेज में एक आई-20 कार से नजर आई थी। इसकी की मदद से पुलिस आरोपितों तक पहुंची है।
दरअसल, ईस्टर्न पेरिफेरल पर फास्टैग के जरिये टोल की पेमेंट हुई थी। जांच में इस कार की लोकेशन नूंह मेवात की मिली थी। चोरों को पकड़ने के लिए 65 पुलिसकर्मियों को लगाया गया। मंगलवार को मुखबिर से सूचना मिली कि चोरी की वारदात को अंजाम देने वाले आरोपी नोएडा-ग्रेटर नोएडा 130 मीटर रोड पर तिलपता गांव के पास आने वाले हैं। सूचना पर पुलिस ने उन्हें धर दबोचा। इनकी पहचान पुलिस ने हरियाणा के नूहं मेवात निवासी राशिद, इरफान, सोहेल, शाबिर उर्फ गीदड़ और हकमुद्दीन उर्फ हक्कू के रूप में की है। आरोपितों ने पूछताछ में बताया कि मौके से 308 मोबाइल, लैपटॉप, 6 हजार रुपये नगद बताया है।
आरोपियों के पास से विभिन्न कंपनियों के 177 मोबाइल फोन, एक एलसीडी, एक डीवीआर, एक यूपीएस, घटना में इस्तेमाल की गई आई-20 कार, 6 हजार रुपये नकद, 2 लोहे के सब्बल, 3 फर्जी नंबर प्लेट, लॉक तोड़ने की चाबी, 1 फर्जी रजिस्ट्रेशन सर्टिफिकेट चिप लगा हुआ, एक फर्जी इंश्योरेंस सर्टिफिकेट, एक फर्जी प्रदूषण नियंत्रण सर्टिफिकेट, तमंचा और 2 जिन्दा कारतूस बरामद किए हैं। यह गिरोह दिल्ली-एनसीआर में वारदात को अंजाम देता था। पुलिस आरोपितों के फरार दो साथियों की तलाश में जुटी है।

Popular posts from this blog

उत्तर पूर्वी जिला पुलिस ने ऑपरेशन अंकुश के तहत छेनू गैंग के चार बदमाशों को किया गिरफ्तार

जीटीबी एंक्लेव थाने में तैनात दिल्ली पुलिस की महिला एसआई ने लगा ली फांसी, पुलिस ने बचाई जान

रोटरी क्लब इंदिरपुरम परिवार के पूर्व प्रधान सुशील चांडक को ज़ोन २० का बनाया गया असिस्टंट गवर्नर