वृन्दावन के निधिवन मंदिर का वीडियो अपलोड करने वाला यूट्यूबर गौरव शर्मा भेजा गया जेल


मथुरा,(उत्तर प्रदेश)। वृन्दावन में स्थित ठा. बांकेबिहारी की प्राकट्य स्थली और उनके प्रकटकर्ता संगीत शिरोमणि स्वामी हरिदास की तपस्थली के नाम से जाने जाने वाले ‘निधिवन राज’ मंदिर स्थल के अंदर का आधा दर्जन से अधिक यूट्यूबरों ने वीडियो बनाकर यूट्यूब पर वायरल कर दिया। इस पर पुजारियों ने आपत्ति जताई और पुलिस को मामले की जानकारी दी। पुलिस ने आई टी एक्ट और धार्मिक स्थल की गोपनीयता को भंग करने के आरोप में मुकदमा दर्ज कर लिया। वहीं मुख्य आरोपी को पुलिस ने दिल्ली से गिरफ्तार कर लिया है।
जानकारी के मुताब‍िक, यूट्यूब चैनल वाले गौरव शर्मा में दो दिन पहले एक कंटेंट अपलोड किया था। इसमें लगभग आधा दर्जन युवक निधिवनराज के पिछले हिस्से की दीवार फांदकर अंदर प्रवेश करते दिखाई दे रहे हैं। निधिवन मिस्ट्री के नाम से प्रसारित इस वीडियो में युवक ने पूरे मंदिर की वीडियो शूट की। इसके बाद वीड‍ियो में वह मंदिर के आध्यात्मिक रहस्य पर अनर्गल टिप्पणी करते दिखाई दे रहे है।
इस वीडियो को अब तक चार लाख से अधिक लोग यूट्यूब पर सर्च कर चुके हैं। मंद‍िर प्रबंधन को जब इसकी जानकारी हुई तो मंदिर के सीसीटीवी कैमरों से पुष्टि करने के बाद कोतवाली वृंदावन में तहरीर देकर कार्रवाई की मांग की गई। जब पुलिस ने मामले को गंभीरता से नहीं लिया तो मथुरा मुंसिफ के समक्ष प्रार्थनापत्र प्रस्तुत किया गया। इस पर सिविल जज अर्चना सिंह ने मथुरा पुलिस को मुकदमा दर्ज कर आपत्तिजनक कंटेंट को सोशल मीडिया से हटवाने के निर्देश दिए हैं। वहीं मध्यरात्रि में निधिवन की वीडियो बनाने वाले मुख्य आरोपी गौरव को पुलिस दिल्ली से गिरफ्तार कर मथुरा ले आई। आरोपी के खिलाफ विभिन्न धाराओं में मुकदमा दर्ज कर आरोपी को जेल भेज दिया है। पुलिस अन्य फ़रार आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए दबिश दे रही है।

Popular posts from this blog

उत्तर पूर्वी जिला पुलिस ने ऑपरेशन अंकुश के तहत छेनू गैंग के चार बदमाशों को किया गिरफ्तार

जीटीबी एंक्लेव थाने में तैनात दिल्ली पुलिस की महिला एसआई ने लगा ली फांसी, पुलिस ने बचाई जान

रोटरी क्लब इंदिरपुरम परिवार के पूर्व प्रधान सुशील चांडक को ज़ोन २० का बनाया गया असिस्टंट गवर्नर