हैकिंग कर ऑनलाइन एग्जाम देते थे, बाप-बेटे समेत तीन आरोपी गिरफ्तार


नई दिल्ली। कोविड 19 के दौरान ऑनलाइन परीक्षा में हैकिंग कर रिमोट एक्सेस के जरिए पेपर सॉल्व करने वाले एक गुजरात और दिल्ली बेस्ड गैंग का साइबर सेल ने खुलासा किया है। गिफ्तार आरोपियों में अहमदाबाद के डी. शाह और उनके पिता आर कुमार को गिरफ्तार किया है, जबकि हैकिंग के जरिए पेपर सॉल्व करने वाले दिल्ली के शाहीनबाग निवासी ए. आलम को गिरफ्तार किया है। आरोपियों के संपर्क करने का प्लेटफॉर्म डार्कवेब था। जिस पर यह दावा करते थे कि वह हैकिंग के जरिये अच्छे नंबर दिलवा सकते हैं। इसके बदले में एप्लीकेंट से मोटी रकम वसूली जाती थी।
इसकी तह तक जाने के लिए साइबर सेल ने नकली ग्राहक बनाकर परीक्षा के लिए तैयार किया हुआ था। उसने डार्कवेब से संपर्क किया। उसके द्वारा बताई गई रकम बैंक खाते में भेज दी गई। उसे एक सॉफ्टवेयर और रिमोट एक्सेस डाउनलोड करने के लिए कहा गया। इसके बाद उसके लैपटॉप का कंट्रोल उस शख्स के पास चला गया था। 25 अक्टूबर को यह एग्जाम हुआ। जिसमें नकली एप्लीकेंट के 736 नंबर आए। तब हैकिंग के जरिए सेंध लगाने का खुलासा हो सका। आरोपियों ने अब तक 200 से ज्यादा परीक्षार्थियों की परीक्षा ऐसे ही सॉल्व की थी। इसके लिए वह मोटी रकम वसूलते थे।
डीसीपी केपीएस मल्होत्रा के मुताबिक, कई निजी कंपनियां अलग-अलग कोर्स की ऑनलाइन परीक्षा करवाती हैं। इसके आधार पर उन्हें नौकरी दी जाती है। इसमें ऑनलाइन प्लेटफॉर्म पर परीक्षा देने वाला खुद को रजिस्टर्ड करता है। इसे लेकर गड़बड़ी की शिकायत मिली थी। टीम ने टेक्निकल जांच और बैंक खातों की मदद से यह पता लगाया और अहमदाबाद डी. शाह को गिरफ्तार किया। उसका मोबाइल और लैपटॉप सीज किया गया। उन्हें पता चला कि आरोपी का पिता ग्रास सॉल्यूशन के नाम से आईटी कोर्स कराने का एक संस्थान चलाता है। उन्हें पता चला कि इसका पिता आर. कुमार भी इस पूरे फर्जीवाड़े में शामिल है। वह लोगों को सिलेक्शन के लिए 100 फीसदी की गारंटी देते थे। आरोपियों ने पुलिस को बताया कि इस काम के लिए दिल्ली के शाहीन बाग में ए. आलम वेबसाइट को हैक करता है और परीक्षा को सॉल्व करता है। आलम नोएडा में सात नेटवर्क सर्विस के नाम से एक ऑफिस चलाता है। वह भी लोगों से व्हाट्सएप, टेलीग्राम पर इस तरीके के एग्जाम पास कराने की बात कहता था। उसे आईटी सर्टिफिकेशन नेटवर्किंग में लगभग 12 साल का अनुभव है।


Popular posts from this blog

उत्तर पूर्वी जिला पुलिस ने ऑपरेशन अंकुश के तहत छेनू गैंग के चार बदमाशों को किया गिरफ्तार

जीटीबी एंक्लेव थाने में तैनात दिल्ली पुलिस की महिला एसआई ने लगा ली फांसी, पुलिस ने बचाई जान

रोटरी क्लब इंदिरपुरम परिवार के पूर्व प्रधान सुशील चांडक को ज़ोन २० का बनाया गया असिस्टंट गवर्नर