प्रयागराज के अनाथालय में रहने वाले बच्चों ने आधार कार्ड बनवाने के लिए पीएम को लिखी चिट्ठी


प्रयागराज,(उत्तर प्रदेश)।  प्रयागराज में अनाथालय में रहने वाले बच्चे अपनी पहचान के लिए भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से आधार कार्ड बनाने की अपील कर रहे हैं। बच्चों ने बकायदा पोस्टकार्ड पर अपनी बात लिखकर प्रधानमंत्री से आधार कार्ड बनाए जाने की अपील की है। पोस्टकार्ड में बच्चों ने लिखा है कि 'पीएम अंकल हम लोगों का आधार कार्ड बनवा दीजिए ताकि हम लोगों को भी समाज में एक पहचान मिल मिल सके।' बच्चों ने अपना पोस्टकार्ड प्रधानमंत्री के पास भेज भी दिया है। अब बच्चों को प्रधानमंत्री के जवाब का इंतजार है। प्रयागराज कटघर में बने अनाथालय में कई सालों से बच्चे रह रहे हैं। इस अनाथालय में रहने वाले बच्चों के आगे-पीछे कोई नहीं है। अनाथालय में अधिकतर रहने वाले बच्चे या तो कोई कूड़े के ढेर में तो कोई स्टेशन पर या कोई जंगल की ढेर में पड़ा मिला था। समाजसेवी संस्थाओं ने इन सभी बच्चों को अनाथालय में रखा था। इनका पालन पोषण इसी अनाथालय के जरिए होता है। इन बच्चों के माता-पिता के रूप में अनाथालय की देखरेख करने वाले लोग ही होते हैं। अब इन बच्चों को भी लगने लगाा है कि समाज में हमारी भी एक पहचान होनी चाहिए। इसके लिए बच्चों ने भारत के प्रधानमंत्री को अपना आधार कार्ड बनाए जाने के लिए खत लिखा है। इन बच्चों ने खत के जरिए 'मोदी अंकल' से अपना आधार कार्ड जल्द से जल्द बनाए जाने की गुहार लगाई है। इस आधार कार्ड का बनाने के पीछे बच्चों को कई फायदे हैं। एक तो सभी बच्चों अपनी पहचान मिल जाएगी। इसके अलावा सरकार के द्वारा मिलने वाले स्कॉलरशिप के फॉर्म को भरने में बच्चों को फायदा मिलेगा। आधार कार्ड ना होने की वजह से बच्चे कोई फॉर्म नहीं भर पाते हैं।
जानकारी के अनुसार इस वक्त इस अनाथालय में 10 से ज्यादा बच्चे रह रहे हैं। प्रयागराज के रहने वाले राजीव मिश्रा ब्लू क्रॉस ऑर्गेनाइजेशन के प्रेसिडेंट है और ये अब तक हजारों लोगों को ब्लड डोनेट कर उनकी जान बचा चुके हैं। राजीव मिश्रा बच्चों के आधार कार्ड बनवाने के लिए प्रयासरत हैं, जिससे कि इन बच्चों की भी एक पहचान हो जाए। राजीव का कहना है कि वह अपना सारा त्योहार अनाथालय के बच्चों के बीच मनाते हैं। बच्चों के बीच त्योहार की खुशियां बांटने का प्रयास करते हैं।