जीटीबी एनक्लेव इलाके में बदमाशों ने हाथ पर झटका देकर झपटा फोन, रिक्शे से गिरी लड़की


राजीव गौड़,(दिल्ली ब्यूरो)। जीटीबी एनक्लेव इलाके में झपटमारों का आतंक इस कदर बढ़ गया है कि राहगीर भी अब पीड़ितों की मदद करने से कतराने लगे हैं। जीटीबी एनक्लेव इलाके में सुबह कुछ ऐसा ही हुआ। ऑफिस के लिए रिक्शा में बैठकर जा रही लड़की से बदमाशों ने फोन झपटने की कोशिश की। लड़की ने कसकर फोन पकड़ा तो बदमाश ने जोरदार झटका मारा, जिससे फोन उसके हाथ में चला गया और लड़की चलते रिक्शे से नीचे गिर गई। वह मदद के लिए जोर-जोर से चिल्लाई, लेकिन आसपास के दुकानदारों और राहगीह ही नहीं बल्कि रिक्शा वाले ने भी लड़की की मदद नहीं की। एक राहगीर से फोन लेकर पुलिस को कॉल की। जीटीबी एनक्लेव थाना पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।
लवी गुप्ता (21) जीटीबी एनक्लेव में परिवार के साथ रहती हैं। उन्होंने पुलिस को बताया कि वह 31 अक्टूबर की सुबह अपने घर के करीब से रिक्शा पर बैठकर झिलमिल मेट्रो स्टेशन के लिए निकली। दिलशाद गार्डन बी-ब्लॉक स्थित साईं चौक के पास करीब 7:30 बजे पहुंचने पर एक बाइक पर सवार होकर दो बदमाश उनके करीब आए। पीछे बैठे बदमाश ने अचानक उनके हाथ से फोन छीनने की कोशिश की। अचानक हुए इस हमले से वह घबरा गईं, लेकिन उन्होंने फोन आसानी से नहीं छोड़ा। इस पर बदमाश ने जोरदार झटका दिया तो उनके हाथ से फोन छूट गया। इससे वह खुद भी चलते रिक्शा से नीचे गिर गई और सड़क पर गिरने से उनको चोट लगी। इसकी परवाह किए बगैर वह मदद के लिए जोर-जोर से चिल्लाई, लेकिन कोई उनकी मदद के लिए आगे नहीं आया। रिक्शा वाला भी उनकी मदद नहीं कर सका। इससे बदमाश बाइक को तेजी से भगाकर फरार होने में कामयाब हो गए। पीड़िता ने एक राहगीर से फोन लेकर पुलिस को वारदात की जानकारी दी। पुलिस मौके पर पहुंची तो उन्हें ऑफिस में जरूरी मीटिंग के लिए जाना था। इसलिए वह वह वहां से तब चली गई, लेकिन शाम को लौटने पर उन्होंने थाने आकर अपनी शिकायत दर्ज कराई। पुलिस आसपास के सीसीटीवी कैमरों की फुटेज खंगालकर बदमाशों की पहचान में जुटी है।